अनलॉक में बढ़ा प्रदूषण! जहरीली हवा में सांस लेने पर ऑक्सीजन से 4 गुना ज्यादा धूल

Smart News Team, Last updated: 23/09/2020 10:53 AM IST
लखनऊ की हवा में बढ़ती धूल लोगों में सांस लेने की तकलीफ का बड़ा कारण बनती जा रही है. प्रदेश की राजधानी में साफ हवा ना होने से लोगों को अनेक बीमारियां घेर रही हैं. पीसीबी के सर्वे में आया कि लखनऊ में पॉल्यूशन का कारण खराब सड़के हैं.
लखनऊ जहरीली हवा में सांस लेने पर ऑक्सीजन से 4 गुना ज्यादा धूल.

लखनऊ. यूपी की राजधानी लखनऊ में अनलॉक के बाद से लोगों को सांस की तकलीफ शुरू हो गई है. शहर में एयर क्वालिटी का स्तर काफी नीचे गिर गया है. एयर पॉल्यूशन चेक करने के सर्वे में सामने आया है कि लखनऊ में खराब हवा का कारण सड़कों की धूल है. पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड के अनुसार गोमतीनगर, आलमबाग, लोहिया पथ, हुसैनगंज, रिंग रोड, इंदिरानगर और पत्रकारपुरम समेत कई इलाकों में प्रदूषण का कारण सड़कों की धूल है.

पीसीबी ने नगर निगम और एनएचआई को रिपोर्ट भेजकर बताया है कि हजारों गाड़ियां दिनभर सड़क पर चलती हैं और खराब सड़कें होने के कारण धूल उड़की है जो हवा को गंदा कर रही है. पीसीबी की रिपोर्ट के अनुसार खराब सड़के लोगों की अन्य समस्याओं का कारण भी है.  

योगी सरकार की बंपर भर्ती, UPPSC ने मांगे 8 हजार से ज्यादा पदों पर आवेदन

कोरोना काल में मास्क लगाना होता है और हवा साफ ना होने के कारण लोगों को सांस लेने में तकलीफ का सामना करना पड़ता है. पर्याप्त ऑक्सीजन नहीं मिलने से शरीर में बीमारियां जगह करती हैं और इम्यूनिटी को कमजोर कर रही हैं. 

लखनऊ: PGI के माइक्रोबायोलॉजी के पूर्व विभागाध्यक्ष डॉ. टीएन ढोल की कोरोना से मौत

प्रदेश की राजधानी की सड़कें काफी समय से खराब हैं और प्रसाशन की तरह से किसी भी तरह की कोई मदद नहीं मिली है. वहीं शहर में आए दिन बड़े कंस्ट्रक्शन के काम हो रहे हैं जिससे हवा में धूल शामिल होती है. इसके लिए निर्माणाधीन मकानों पर लगातार पानी का छिड़काव किया जाता है जिससे धूल की समस्या से बचा जा सके. 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें