कब है देव दीपावली 2020: जानें तिथि, शुभ मुहूर्त, विधि और महत्व

Smart News Team, Last updated: Tue, 24th Nov 2020, 2:29 PM IST
  • देव दीपावली दीवाली के 15 दिनों बाद कार्तिक पूर्णिका के दिन मनाई जाती है. इसे भगवान शिव की नगरी काशी में बड़े ही धूम-धाम के साथ मनाया जाता है. इस बार देव दीपावली 29 नवंबर को मनाई जाएगी.
देव दीपावली. फोटो साभार-हिन्दुस्तान टाइम्स

हिन्दू पंचांग के अनुसार कार्तिक मास की पूर्णिमा को देव दीपावली मनाई जाती है. इस बार देव दीपावली 29 नवबंर को है. देव दीपावली को लेकर ऐसी मान्यता है कि इस दिन देवी देवता काशी में आते हैं. इसलिए पूरी काशी नगरी को दुल्हन की तरह सजाया जाता है.

कब है देव दीपावली- कार्तिक मास की पूर्णिमा यानि 29 नवबंर को 12 बजकर 47 मिनट से शुरू हो रहा है, जो 30 नवंबर दिन सोमवार को दोपहर 02 बजकर 59 मिनट तक है. इसलिए देव दीपावली 29 नवंबर दिन रविवार को मनाई जाएगी.

देव दीपावली का शुभ मूहुर्त-पूजा करने के लिए 2 घंटे 40 मिनट का शुभ समय है. 29 नवंबर को शाम 05 बजकर 08 मिनट से शाम 07 बजकर 47 मिनट के बीच देव दीपावली की पूजा करना उत्तम होगा.

देव दीपावली को लेकर महत्व- देव दीपावली मास के पूर्णिका को होती है. पौराणिक मान्यता के अनुसार, कार्तिक पूर्णिमा के दिन देवी-देवता देव दीपावली मनाने के लिए काशी आते हैं. इस दिन संध्या के वक्त गंगा तट पर पूजा और आरती की जाती है और काशी के सभी घाटों को दीपों से सजाया जाता है. इस दिन स्नान, दान और उपासना करने से लाभ होता है.

देव दीपावली को लेकर पांच खास बातें-

1.कार्तिक माह की पूर्णिमा को देव दीपावली मनाई जाती है.

2.मान्यता है कि इस दिन सभी देवी देवता गंगा नदी घाट पर आते हैं.

3.इसलिए इस दिन गंगा नदी के तट को दीपों से सजाया जाता है. दीप जलाकर सभी अपने मनोकामना को पूरा करने की प्रर्थना करते हैं.

4.देव दीपावली के दिन घर में तुलसी के पौधे के पास दीप जलाने और भगवान विष्णु की पूजा करने की भी मान्यता है.

5.इस दिन एक पत्ते पर दीपक जलाकर नदी पर छोड़ने से कर्ज और संकट जैसे कारणों से छुटकारा मिलता है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें