लखनऊ की सड़कों से हटेगा अतिक्रमण, यातायात पुलिस और नगर निगम ने बनाई योजना

Smart News Team, Last updated: Sat, 17th Oct 2020, 8:35 PM IST
  • नगर निगम और यातायात पुलिस ने साथ मिलकर शहर की सड़कों पर अतिक्रमण हटाने की योजना तैयार की है. त्योहारों को देखते हुए बाजारों और प्रमुख मार्गों में अतिक्रमण हटाने पर विशेष ध्यान दिया जाएगा. इसके लिए यातायात पुलिस और नगर निगम ने काम भी शुरू कर दिया है.
लखनऊ शहर में आने वाली सभी सड़कों से अतिक्रमण हटाया जाएगा.

लखनऊ. राजधानी लखनऊ शहर में आने वाली सभी सड़कों से अतिक्रमण हटाया जाएगा. इसके लिए यातायत पुलिस और नगर निगम ने मिलकर योजना बनाई है. यह योजना त्योहारों को देखते हुए की गई है.आज से नवरात्र शुरू हो चुके है. 25 अक्टूबर को दशहरा और उसके बाद दिवाली आने वाली है. बाजारों में त्योहरों को लेकर काफी भीड़ रहेगी. इसलिए यातायात पुलिस और नगर निगम ने साथ मिलकर अतिक्रमण मुक्त करने की योजना बनाई है. शहर की बाजारों, पूजा पंडालों की सुरक्षा के लिए कड़े इंतजाम किए गए है.

पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडेय के अनुसार बाजारों की सुरक्षा और यातायात व्यस्था को दुरुस्त रखने के लिए नगर निगम के साथ पूरा खाका तैयार कर लिया है. त्योहारों के दौरान बाजारों में भीड़ बढ़ जाते है इसलिए अतिक्रमण को हटाने की योजना बनाई गई है. भीड़ वाली जगहों पर मॉनिटरिंग करने के लिए सीसीटीवी कैमरे लगवाए जाऐंगे और महिलाओं की सुरक्षा पर विशेष ध्यान दिया जाएगा.

कॉमर्शियल वाहनों के लिए आदेश जारी, इसके बिना नहीं मिलेगा फिटनेस सर्टिफिकेट

यातायात पुलिस इसके द्वारा लगातार बाजारों में गश्त की जाएगी. इसके साथ-साथ बाजारों और सड़कों को जाम मुक्त करने के लिए काम शुरू कर दिया गया है. बाजारों में खराब लाइटों को ठीक कराया जाएगा और जहां लाइट नहीं है वहां पर नगर निगम के सहयोग से इंतजाम किया जाएगा. इसके साथ-साथ प्रमुख स्थानों की सुरक्षा के लिए पुलिस बल का विशेष इंतजाम किया जाएगा. कोविड-19 के दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए यह पूरी योजना बनाई गई है.

इन जगहों पर चलेगा अतिक्रमण हटाने का अभियान

चिनहट के मटियारी एवं तिवारीगंज का इलाका

रायबरेली रोड

सीतापुर मोड़

कानपुर रोड़

चौक का पूरा इलाका

निशातगंज से लेकर पॉलीटेक्निक चौराहे तक

मोहनलाल गंज से तेलीबाग चौराहे तक समेत शहर के प्रमुख मार्गों पर अतिक्रमण हटाने का काम किया जाएगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें