Diwali: धनतेरस के दिन अपनाएं ये उपाय, संकटों से पाएंगे निजात और हो जाएंगे मालामाल

Priya Gupta, Last updated: Sat, 2nd Oct 2021, 3:49 PM IST
  • धनतेरस या धनत्रयोदशी के नाम से जाना जाता है. इस दिन आप कई ऐसे काम कर सकते हैं इससे आपके घर में किसी तरह की कोई संकट नहीं आएगी. कई दोष से मुक्ति मिल जाएगी.
धनतेरस के दिन अपनाएं ये उपाय

दीवाली के एक दिन पहले धनतेरस मनाया जाता है. धनतेरस पर नए बर्तन या सोने, चांदी के आभूषण खरीदना शुभ माना जाता है. लेकिन इन सब के साथ ही धन का मतलब सिर्फ पैसे से नहीं होता है. धन का मतलब और इसके बारे में जानना और समझना बेहद जरुरी है. कार्तिक माह (पूर्णिमान्त) की कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी तिथि के दिन समुद्र-मंन्थन के समय भगवान धन्वन्तरि अमृत कलश लेकर प्रकट हुए थे, इसलिए इस तिथि को धनतेरस या धनत्रयोदशी के नाम से जाना जाता है. इस दिन आप कई ऐसे काम कर सकते हैं इससे आपके घर में किसी तरह की कोई संकट नहीं आएगी.

दीपदान करें : धनतेरस की शाम को मुख्य द्वार पर 13 और घर के अंदर भी 13 दीप जलाने होते हैं. लेकिन यम के नाम का दीपक परिवार के सभी सदस्यों के घर आने और खाने-पीने के बाद सोते समय जलाया जाता है. इस दीप को जलाने के लिए पुराने दीपक का उपयोग किया जाता है जिसमें सरसों का तेल डाला जाता है. यह दीपक घर से बाहर दक्षिण की ओर मुख कर नाली या कूड़े के ढेर के पास रख दिया जाता है. इसके बाद जल चढ़ा कर दीपदान करते समय यह मंत्र बोला जाता है.

Dhanteras 2021: दीवाली के पहले क्यों मनाते हैं धनतेरस, जानें कब से हुई इसकी शुरुआत

धनिया खरीदें : धनतेरस के दिन सोना खरीदने की प्रथा अगर आप सोना नहीं कर सकते हैं तो उसके बदले पीतल का बर्तन खरीदें. साथ ही पीली कौड़ियां और धनिया खरीदें. खासकर धनिया खरीदना बहुत ही शुभ होता है. धनतेरस के दिन किसान लोग धनिये के बीच खरीदते हैं और आम शहरी पूजा के लिए धनिया खरीदता है.

दान करें. ऐसा कहा जाता है कि आप चीनी, बताशा, खीर, चावल, सफेद कपड़ा आदि अन्य सफेद वस्तुएं दान करना चाहिए. ऐसा करने से आपको धन की कमी नहीं होगी. पूंजी बढ़ने के साथ ही कार्यों में आ रहीं बाधाएं भी दूर होंगी. इस दिन यदि आपके दरवाजे पर कोई भिखारी, जमादार या गरीब व्यक्ति आए, तो उसे खाली हाथ न भेजें. आप कुछ न कुछ उसे जरूर दें। इससे मां लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं और आपको समृद्धि का आशीष देती हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें