Laxmi Puja Muhurat: दिवाली पर लक्ष्मी पूजन का क्या है शुभ मुहूर्त, जानें

Smart News Team, Last updated: Thu, 12th Nov 2020, 12:59 PM IST
  • दिवाली पर यानि कार्तिक मास की अमावस्या पर लक्ष्मी जी की पूजा करने से सुख-समृद्धि आती है, इस दिवाली पर पूजा करने की शुभ मुहूर्त क्या होगी जानें यहां.
दिवाली पर लक्ष्मी पूजन का क्या है शुभ मुहूर्त

दिवाली14 नवंबर शनिवार को मनाई जाएगी, इस दिन देवी लक्ष्मी और भगवान गणेश की पूजा की जाती है. दिवाली पर यानि कार्तिक मास की अमावस्या पर लक्ष्मी जी की पूजा करने से सुख-समृद्धि आती है, इस दिवाली पर पूजा करने की शुभ मुहूर्त क्या होगी जानें यहां.

इस साल कार्तिक अमावस 14 नवंबर 2020 शनिवार को दोपहर 2 बजकर 18 मिनट बाद अपराद्ध, सायाढ़, प्रदोष, निशीथकाल एंव महानिशीथ व्यापिनी होगी. दिवाली 14 नवंबर 2020 शनिवार को ही होगी. बह्मपुराण के अनुसार अर्द्धरात्रि व्यापिनी अर्थात आधी रात तक रहने वालीअमावस्या ही श्रेष्ठ होती है. यदि वह आधी रात तक ना रहे तो प्रदोषव्यापिनी लेनी चाहिए.

रंगोली को सही तरीके से बनाने से प्रसन्न होकर पधारेंगी मां लक्ष्मी, जानें महत्व

14 नवंबर रविवार 2020 प्रदोष काल में मंदिर में दीपादान, रंगोली और पूजा से जुड़ी अन्य तैयारी इस समय कर लेनी चाहिए.साथ ही मिठाई वितरण का काम कर लेना चाहिए. इस समय इस काम को को करना शुभ माना जाता है. इसके साथ ही द्वार पर स्वास्तिक और शुभ लाभ लिखने का कार्य इस मुहूर्त समय पर किया जा सकता है. अपने बड़ो, परिवार के सदस्यों से आशिर्वाद लेना शुभ माना जाता है. धर्म स्थल पर दानआदि का काम कर लेना चाहिए.

14 नवंबर शनिवार के दिन निशीथ काल लगभग रात 8 बजे से लेकर 11 बजे तक रहेगा. स्थानिय प्रदेश के अनुसार इस समय के कुछ मिनट का अंतर हो सकता है. धन लक्ष्मी का आवाहान एंव पूजन, गल्ले की पूजा तथा हवन आदि कार्य पूरा कर लेना चाहिए. इसके साथ ही महालक्ष्मी पूजन, महाकाली पूजन, लेखनी कुबेर, पूजन अन्य मंत्रों का जप करना चाहिए.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें