फेसबुक और यूट्यूब पर दिखेगी लखनऊ के ऐशबाग की ऐतिहासिक रामलीला

Smart News Team, Last updated: Sun, 18th Oct 2020, 10:36 PM IST
  • कोविड- 19 के चलते लखनऊ शहर में ऐशबाग की ऐतिहासिक रामलीला का प्रसारण ऑनलाइन किया जाएगा. इसके लिए समिति ने पूरी योजना बना ली है. शहर में होने वाली सभी रामलीला मैदान की बजाए भवन, गेस्ट हाउस में होगी. यूपी सरकार द्वारा त्योहारों के लिए जारी नई गाइडलाइन का पालन किया जाएगा.
इस साल लखनऊ के लोग ले सकते है ऑनलाइन रामलीला का आनंद

लखनऊ. कोरोना वायरस से लोगों को सुरक्षित रखने के लिए रामलीला समिति ऐशबाग ने बड़ा फैसला लिया है. ऐशबाग की ऐतिहासिक रामलीला का आयोजन इस फेसुबक पेज और यूट्यूब चैनल के जरिए किया जाएगा. इसके लिए समिति ने पूरी तैयारियां कर ली है.

उत्तर प्रदेश सरकार ने कोरोना को लेकर त्योहारों के लिए नई गाइडलाइन जारी की है. इन गाइडलाइन का पालन इसके लिए सभी विभाग सक्रिय है. ऐशबाग की इस रामलीला को श्रीराम भवन में जिसको सोशल मीडिया के माध्यम से घर-घर तक पहुंचाया जाएगा. रामलीला समिति के संयोजक आदित्य द्विवेदी ने बताया कि ऐशबाग की रामलीला वर्षों से चल रही है यह सबसे पुरानी है लेकिन इसका परंपरागत मंचन नहीं होगा. इसका मंचन हाल में कराया जाएगा. जिसका चार घंटे का प्रसारण ऑनलाइन किया जाएगा. इस मंचन में स्थानीय कलाकार और कोलकत्ता के दो कलाकारों की मदद से दो घंटे का मंचन होगा.

CM योगी का ऐलान, यूपी पुलिस में 20 प्रतिशत महिलाओं की भर्ती

शहर के सदर इलाके की रामलीला गेस्ट हाउस में होगी वहीं राजाजीपुरम में पोस्टल मैदान की रामलीला का मंचन खुले मैदान में होगा. कानुपर रोड के एलडीए कॉलोनी  और मौसमगंज में रामलीला नहीं होगी.

फेसबुक और यूट्यूब चैनल में होगा रामलीला का प्रसारण घर बैठे लोग रामलीला का प्रसारण देख सके इसके लिए रामलीला समिति ऐशबाग ने यह निर्णय लिया है कि शाम पांच से सात बजे तक इसका प्रसारण रामलीला समिति ऐशबाग की वेबसाइट, फेसबुक पेज और यूट्यूब चैनल के माध्यम से किया जाएगा. इसके साथ कोविड-19 संक्रमण को रोकने के लिए इस बार रावण के पुतले का प्रतीक मानकर 25 अक्टूबर को इसका दहन किया जाएगा.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें