लखनऊ: नमक के नाम पर 1 करोड़ रुपये का फ्रॉड, विधानभवन में बनाया फर्जी ऑफिस

Smart News Team, Last updated: 12/08/2020 09:20 AM IST
  • पशुधन फर्जीवाड़ा करने वाले आशीष राय ने एक और बड़ी ठगी की है. एक व्यापारी को नमक का कॉन्ट्रेक्ट दिलाने के नाम पर एक करोड़ से ज्यादा की रकम वसूल ली.
लखनऊ: नमक के नाम पर 1 करोड़ रुपये का फ्रॉड, विधानभवन में बनाया फर्जी ऑफिस

पशुधन फर्जीवाड़े में नौ करोड़ हड़पने के आरोपी आशीष राय की एक और ठगी की जानकारी सामने आई है. बताया जा रहा है कि उसने खाद्य एवं आपूर्ति विभाग में नमक का 120 करोड़ रुपये का ठेका दिलाने के नाम पर भी अहमदाबाद के व्यापारी नाम नरेन्द्र भाई पटेल से एक करोड़ दो लाख रुपये हड़प लिए थे. इस व्यापारी को फंसाने के लिये भी आशीष राय ने विधानभवन के अंदर ही ज्वाइन्ट सेक्रेटरी के कनौजिया का बोर्ड लगाकर फर्जीवाड़ा किया.

खुलासा हुआ है कि आशीष ने विधानभवन के अंदर ज्वाइन्ट सेक्रेटरी एनके कनौजिया के नाम का बोर्ड लगाया और पीड़ित व्यापारी नरेन्द्र भाई पटेल से आशीष एनके कनौजिया बनकर मिलता था. आशीष ने इस ठगी के लिए बहुत प्लानिंग की थी. उसने 120 करोड़ रुपए की डील के लिए 5 प्रतिशत एडवांस और पांच प्रतिशत बाद में के साथ अन्य खर्च के लिए 2 रुपए लाख एडवांस लिए थे.

BJP नेता की हत्या के बाद योगी सरकार ने बागपत ASP पर गिराई गाज, ट्रांसफर

बताया गया कि पहले इस डील के लिये दिल्ली के कनॉट प्लेस में मीटिंग की गई और बाद में मीटिंग लखनऊ गोमतीनगर के होटल नोवोटेल में की गई. डील तय होने के बाद दिल्ली में हनुमान मंदिर के पास 1 करोड़ रुपए लिए गए थे. इस ठगी में आशीष का साथ देने में भी सचिवालय के कई कर्मचारियों का नाम सामने आ रहा है.

होमआइसोलेशन में कोरोना मरीजों को 24 घंटे मिलेगी 'हैलो डॉक्टर' सेवा

पीड़ित व्यापारी इस बात से अनजान था कि उसके साथ एक करोड़ रुपए से भी ज्यादा की ठगी हुई है. व्यापारी को जब आशीष राय के पशुधन फर्जीवाड़े में गिरफ्तार होने की खबर मिली तो वह लॉकडाउन खत्म होने पर लखनऊ आया. इस मामले में सात आरोपियों के खिलाफ एफआईआर हुई है जिनमें से दो जेल में हैं. 

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें