लखनऊ: रियल एस्टेट में निवेश के नाम पर वकील से लाखों रुपए ठगे, मुकदमा दर्ज

Smart News Team, Last updated: 23/08/2020 10:46 AM IST
  • लखनऊ में एक वकील से रियल एस्टेट कारोबार में निवेश के नाम पर 8 लाख ठग लिए गए. कंपनी ने उन्हें 16 महीनों में 13 प्रतिशत मासिक का लाभ वादा भी किया था. वकील ने अब कंपनी के खिलाफ विभूति खंड थाने में मुकदमा दर्ज कराया.
लखनऊ में एक वकील से एक फर्जी कंपनी ने रियल एस्टेट कारोबारमें  निवेश के नाम पर 8 लाख रुपये हड़प लिए।

लखनऊ. लखनऊ के एक एडवोकेट से निवेश के नाम पर रियल एस्टेट कारोबार में करीब 8 लाख रुपये की ठगी हो गई. पीड़ित एडवोकेट ने कंपनी के निर्देशक सहित अन्य लोगों के खिलाफ विभूतिखंड थाने में मुकदमा दर्ज कराया है.

जानकारी के अनुसार लखनऊ के वास्तुखण्ड के रहने वाले एडवोकेट अश्वनी कुमार श्रीवास्तव ने जौनपुरके रहने वाले राकेश यादव के कहने पर 9 मार्च 2019 को वास्तुम इंफ्रालैंड इंडिया प्राइवेट लिमिटेड कंपनी में करीब 8 लाख रुपये निवेश किये थे. इसमें से डेढ़ लाख उन्होंने अपने नाम से और 6 लाख 54 हज़ार रुपये अपनी पत्नी प्रतिज्ञा के नाम से निवेश किये थे.

SC ने CBI कोर्ट से कहा- बाबरी मस्जिद विध्वंस मामले में 30 सितंबर तक फैसला दें

 कंपनी ने उन्हें 16 महीनों तक हर महीने 13 प्रतिशत लाभ देने का कहा था.ऐडवोकेट ने बताया कि कुछ महीनों तक कंपनी ने उन्हें कुल 1 लाख 20 हज़ार रुपये दिए. इसके बाद कंपनी की तरफ़ से उन्हें कोई राशि नहीं मिली.

लखनऊ जिला जेल में 12 और कैदी कोरोना पॉजिटिव, अब तक 41 संक्रमित

इस बीच उन्हें जानकारी मिली कि कंपनी ने उनकी तरह ही सैकडों लोगों को चूना लगाया है. इसके बाद उन्होंने विभूतिखंड थाने में कंपनी के ख़िलाफ़ FIR लिखवाई. पुलिस ने उनकी रिपोर्ट के आधार पर सरोजनी नगर निवासी मुकेश सिंह, विष्णु पाल सिंह, विभूति खंड की निवासी रिंकी सिंह, मुन्नी देवी, कानपुर रोड निवासी अजय सिंह ,राणा अजय सिंह, सिद्धार्थ उप्रेती और विनय पाठक के खिलाफ मुकदमा दर्ज़ किया है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें