ऑनलाइन बुक किया पिज्जा, ओटीपी डालते ही खाते से निकल गए 2,24,000 रुपये

Smart News Team, Last updated: 05/01/2021 11:43 AM IST
  • राजधानी लखनऊ इन दिनों साइबर जालसाजों के निशाने पर है। गूगल पर इन जालसाजों ने अपने नंबर फैला रखे हैं। जब लोग अपने काम के लिए गूगल पर संबंधित कंपनी का नंबर सर्च करते हैं तो जालसाजों के नंबर सामने आ जाते हैं। इन नंबरों पर कॉल करते ही जालसाज ओटीपी भेजकर खाता खाली कर रहे हैं। सोमवार को ऐसे ही एक महिला ने ऑनलाइन पिज्जा आर्डर करने के लिए जब दिए गए फोन नंबर पर संपर्क किया तो ओटीपी डालते ही उसका खाता खाली हो गया
साइबर ठगी

लखनऊ :  कृष्णानगर निवासी एक महिला को ऑनलाइन पिज्जा मंगवाना महंगा पड़ गया। इस एक पिज्जा के लिए उनको 2,24,000 रुपये चुकाने पड़ गए। दरअसल साइबर जालसाज ने ऑर्डर बुक होने का झांसा देकर ओटीपी हासिल कर लिया और खाते से 2,24,000 रुपये उड़ा दिए। रविवार को पीड़िता ने कृष्णानगर कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज करवाई है।

उत्तर रेलवे ने 7011 मीट्रिक टन कबाड़ बेचकर कमाए 17.34 करोड़ रुपये

पुलिस के मुताबिक कृष्णानगर निवासी करुणा का इलाहाबाद बैंक की हमीरपुर शाखा में खाता है। शुक्रवार शाम उन्होंने ऑनलाइन पिज्जा ऑर्डर करने के लिए गूगल से नंबर सर्च कर कॉल की। इस दौरान कॉल रिसीव करने वाले जालसाज ने उन्हें पिज्जा बुक होने का झांसा देकर ओटीपी हासिल कर लिया और खाते से रकम उड़ा दी। ट्रांजेक्शन का मैसेज देख उन्हें ठगी का पता चला। बैंक से संपर्क करने के बाद रविवार को थाने पहुंची। इंस्पेक्टर कृष्णानगर महेश कुमार दुबे का कहना है कि रिपोर्ट दर्ज कर मामले की जांच की जा रही है।

डॉक्टर से भी बैंककर्मी बनाकर दो लाख की धोखाधड़ी

शाहनजफ रोड स्थित डफोडिल अपार्टमेंट निवासी डॉ.अशोक मिश्रा का बचत खाता इलाहाबाद बैंक में है। उन्होंने बताया कि सितंबर माह में खाते से 97849 रुपये कटने का मेसेज आया। इस पर उन्होंने गूगल पर सर्च कर बैंक का कस्टमर केयर नंबर हासिल किया। डॉ. मिश्रा ने कॉल की तो फोन उठाने वाले शख्स ने बैंककर्मी बन खाते से रुपये वापस करने व खाता अपडेट करने का झांसा देकर ओटीपी हासिल कर लिया। उसके बाद जालसाज ने खाते से कई बार में दो लाख रुपये पार कर दिए । ठगी का अहसास होने पर डॉ. अशोक मिश्रा ने हजरतगंज कोतवाली में धोखाधड़ी का केस दर्ज करवाया है। 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें