लखनऊ यूनिवर्सिटी में रोजगार पीठ के लिए यूपी सरकार की तरफ से एक करोड़ जारी

Smart News Team, Last updated: 16/10/2020 06:53 AM IST
  • यूपी सरकार ने लखनऊ यूनिवर्सिटी में रोजगार पीठ की स्थापना के लिए एक करोड़ रुपये जारी कर दिए है. यूनिवर्सिटी प्रशासन इस पीठ की स्थापना के लिए तैयारियां तेज कर दी है. 
लखनऊ यूनिवर्सिटी में अंतरराष्ट्रीय महात्मा गांधी रोजगार अध्ययन पीठ की स्थापना के लिए एक करोड़ रुपये जारी.

लखनऊ. यूपी सरकार ने लखनऊ यूनिवर्सिटी में अंतरराष्ट्रीय महात्मा गांधी रोजगार अध्ययन पीठ की स्थापना के लिए एक करोड़ रुपये जारी कर दिए है. बता दें कि प्रदेश सरकार ने अपने बजट में इस पीठ की स्थापना की घोषणा की थी. अंतरराष्ट्रीय महात्मा गांधी रोजगार अध्ययन पीठ की स्थापना के लिए दो करोड़ रुपये प्रस्तावित किए गए है. जिसमें अभी  प्रथम चरण में एक करोड़ रुपये की मंजूरी राज्य सरकार की तरफ से दी गई है. यूनिवर्सिटी प्रशासन इस पीठ की स्थापना के लिए तैयारियां तेज कर दी है.

यूनिवर्सिटी में पढ़ने वाले स्टूडेंट्स को राेजगार विषय पर शोध करने करने और ज्ञान प्राप्त करने के उद्देश्य से इसकी स्थापना की जाएगी. इसके अलावा इस पढ़ाई के जरिए स्टूडेंट्स को रोजगार और रोजगार प्रबंधन के लिए प्रशिक्षित किया जाएगा. 

आजम खान की बहन के खिलाफ एलडीए की कार्रवाई, लखनऊ में आवंटित बंगला निरस्त

जानकारी के मुताबिक, लखनऊ यूनिवर्सिटी प्रशासन ने फैसला लिया है कि इस प्रस्तावित पीठ से जुड़े काम यूनिवर्सिटी में उपलब्ध स्टाफ ही करेंगे. प्रस्तावित पीठ के लिए किसी अतिरिक्त स्टाफ की नियुक्ति नहीं होगी. 

UP पुलिस को CM योगी के निर्देश, 9 दिन बहन-बेटी छेड़ने वालों पर नजर रखें और फिर…

उधर, लखनऊ यूनिवर्सिटी  स्थापना के 100 साल में यूपी सरकार से आर्थिक सहायता के लिए 50 करोड़ रुपये का प्रस्ताव भेजा है. लखनऊ यूनिवर्सिटी प्रशासन ने 18 से 25 नवंबर के बीच स्थापना के 100 साल में कई कार्यक्रम आयोजित करने वाला है. प्रशासन ने होने वाले मुख्य कार्यक्रम में प्रधानमंत्री को आमंत्रित किया है. साथ ही लखनऊ यूनिवर्सिटी प्रशासन की तरफ से राष्ट्रपति, रक्षामंत्री, मानव संसाधन मंत्री, यूपी सीएम और राज्यपाल को भी आमंत्रण पत्र भेजा है. 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें