धर्म परिवर्तन के फायदे गिनाने वाले IAS इफ्तखारुद्दीन के खिलाफ होगी जांच

MRITYUNJAY CHAUDHARY, Last updated: Tue, 28th Sep 2021, 2:05 PM IST
  • उत्तर प्रदेश IAS इफ्तखारुद्दीन की धर्म परिवर्तन पर बात करते हुए वायरल वीडियो की जांच के लिए SIT टीम गठित हुई. योगी सरकार ने IAS इफ्तखारुद्दीन के मामले की जांच के आदेश दिया है. इस मामले की जांच कर एसआईटी टीम 7 दिनों में शासन को अपनी रिपोर्ट प्रेषित करेगी.
CM योगी का आदेश, धर्म परिवर्तन के फायदे गिने वाले गिनाने वाले IAS वायरल वीडियो की होगी जांच

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के IAS इफ्तिखारुद्दीन की धर्म परिवर्तन की खूबियां गिनाते हुए वायरल वीडियो की जांच के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एसआईटी टीम का गठन किया. साथ ही योगी सरकार ने इस मामले की जांच के आदेश दिया है. कानपुर आईएएस इफ्तिखारुद्दीन मामले की जांच कर एसआईटी की टीम सैट दिनों में अपनी रिपोर्ट यूपी सरकार के सामने पेश करेगी. यूपी सरकार द्वारा गठित SIT टीम का अध्यक्ष डीजी सीबीसीआईडी जीएल मीना होंगे. वहीं इस टीम के सदस्य एडीजी जोन भानु भास्कर होंगे. 

बता दें कि सोमवार को आईएएस इफ्तिखारुद्दीन की सोमवार को कई वीडियो वायरल हुई थी. जिसमें वह मुस्लिम समाज के कुछ लोगों के साथ बैठे दिखे थे. साथ ही वह इस वीडियो में धर्म परिवर्तन के फायदे गिना रहे वक्ता को सुन रहे थे. इसके साथ ही आईएएस इफ्तिखारुद्दीन इस्लाम धर्म के प्रचार प्रसार की बाते करते हुए भी दिखाई दे रहे हैं. वहीं इस वीडियो में वक्ता कहता हुआ सुनाई देता है कि अल्लाह ने हमें यूपी के तौर पर ऐसा सेंटर दिया है, जहां से पूरे देश दुनिया मे काम कर सकते है. 

यूपी में धर्म परिवर्तन के फायदे गिनाते सीनियर IAS का वीडियो वायरल, डिप्टी CM बोले- कराएंगे जांच

इतना ही नहीं इस वीडियो में आईएएस इफ्तिखारुद्दीन ने कहते हुए दिखाई देते है कि ऐलान करो दुनिया के इंसानों से कि अल्लाह की बादशाहत और निजामियात पूरी दुनिया मे कायम करनी है. इसके साथ ही आईएएस इफ्तिखारुद्दीन एक दूसरे वीडियो में बोलते हुए कहते हैं कि हर घर में अल्लाह का दीन दाखिल होना चाहिए, करना चाहिए. इसके साथ ही वह वायरल वीडियो में इस्लाम के फायदे गिनाते हुए दिखाई दिए है. वीडियो के वायरल होने के बाद प्रदेश सरकार ने एसआईटी टीम गठित कर जांच के आदेश दे दिया है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें