लखनऊ न्यूज - हाथरस केस में पीड़ित परिवार का प्रशासन पर आरोप, बिना पूछे शव जलाया

Smart News Team, Last updated: 13/10/2020 08:32 AM IST
  • हाईकोर्ट की की लखनऊ बैंच ने हाथरस मामले में पीड़िता के शव का कथित तौर पर मनमाने तरीके से परिवार की मर्जी के बिना रातो-रात अंतिम संस्कार कराने के मुद्दे पर सुनावाई हुई। पीड़ित परिवार की अधिवक्ता सीमा कुशवाहा ने कहा कि परिवार ने प्रशासन पर आरोप लगाया कि बिना सहमति के अंतिम संस्कार किया गया। अगली सुनवाई 2 नवंबर को होगी। हाईकोर्ट में पीड़िता के परिजनों के अलावा कई अधिकारी भी मौजूद रहे। पीड़ित परिवार से पांच लोग मजिस्ट्रेट की निगरानी में कोर्ट में पेश हुए और अपना बयान दर्ज कराया। पेशी के लिए परिवार सुबह 11 बजे भारी पुलिस सुरक्षा के बीच लखनऊ पहुंचा। एसडीएम अंजलि गंगवाल, सीओ शैलेंद्र वाजपेयी, जनपद के डीएम प्रवीण लक्षकार भी परिवार के साथ लखनऊ आए। छह गाड़ियों के काफिले के साथ पीड़ित परिवार के सदस्य लखनऊ हाईकोर्ट पहुंचे।
  • सीएम योगी आदित्यनाथ अयोध्या की रामलीला देखने जाएंगे। कमेटी के मुख्य संरक्षक और सांसद बीजेपी के वरिष्ठ नेता प्रवेश साहिब सिंह वर्मा और अध्यक्ष सुभाष मलिक मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मिले और उनको आयोध्या की रामलीला में आने का निमंत्रण दिया। मुख्यमंत्री ने निमंत्रण स्वीकार किया और मंचन के दौरान किसी भी एक दिन आने का वादा किया। इस दौरान मुख्यमंत्रियों को मंचन की तैयारियों की भी जानकारी दी गई। इस मौके पर बिंदु दारा सिंह भी मौजूद थे। उन्होंने मुख्यमंत्री को बताया कि आयोध्या की रामलीला में वह हनुमान जी का किरदार निभा रहे हैं। मुख्यमंत्री ने उनसे कहा कि आपके पिता जी भी हनुमान जी की भूमिका निभाते थे और आपने बहुत अच्छे तरीके से अपने पिता की विरासत को संभाला है। जब मैं आपके पिता दारा सिंह को टीवी पर रामायण सीरियल में देखता था तो अति प्रसन्नता होती थी।
  • भारतीय प्रबंध संस्थान आईआईएम लखनऊ ने मैनेजमेंट डेवलपमेंट का कार्यक्रम जारी कर दिया है। इसकी शुरुआत 2 नवंबर से होगी। फिलहाल अभी 31 मार्च तक का कार्यक्रम जारी किया गया है। खास बात यह है कि कोरोना संक्रमण के कारण अभी आनलाइन कार्यक्रम का विकल्प ही मिलेगा। फीस में भी परिवर्तन किया गया है। इस बार कम से कम 15 घंटे और अधिकतम 35 घंटे का कोर्स निर्धारित किया गया। 15 घंटे के पाठ्यक्रम का शुल्क 45000 है और अधिकतम शुल्क 60000 है।
  • लखनऊ के लिए राहत की खबर है। राजधानी में कोरोना संक्रमण कम हो रहा है। नए मरीजों की संख्या कम हो रही है। लखनऊ में आज 307 कोरोना संक्रमित मरीज मिले। ठीक होने के बाद 457 मरीजों को छुट्टी मिली। पांच मरीजों ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। राजधानी में सबसे ज्यादा कोरोना कहर सितंबर माह में टूटा, जब नए संक्रमितों की संख्या 1000 के पार पहुंच गई थी।

सम्बंधित वीडियो गैलरी