लखनऊ न्यूज: सचिवालय में फिर पकड़ा गया फर्जी पास। लखनऊ से जल्द गुजरेंगी तीन एसी स्लीपर ट्रेनें

Smart News Team, Last updated: 10/10/2020 08:18 AM IST
  • सचिवालय में फर्जी पास का मामला एक बार फिर पकड़ा गया है। शुक्रवार को सचिवालय के गेट नंबर सात से एक जालसाज पकड़ा गया। उसकी गाड़ी पर दिल्ली का नंबर लिखा था, जबकि उस पर जो पास लगा था उस पर बाराबंकी की गाड़ी का नंबर था। गेट से प्रवेश करते ही सुरक्षा कर्मियों ने गाड़ी को जब रोका तो उस पर सवार अभय प्रताप सिंह से फर्जी समीक्षा अधिकारी का आईकार्ड निकला। सुरक्षा कर्मियों ने अभय प्रताप सिंह को पुलिस के हवाले कर दिया है।
  • ट्रेन में सफर करने वाले यात्रियों के लिए राहत की खबर है। रेलवे प्रशासन ने सात माह बाद एक बार फिर लखनऊ से गुजरने वाली तीन एसी स्लीपर क्लास की ट्रेनों को शुरू करने का ऐलान किया है। रेलवे बोर्ड ने ट्रेनों को चलाने का आदेश दे दिया है। इसमें डबल डेकर, राजधानी व वंदे मातरम ट्रेन शामिल है। इनके संचालन के तारीख की घोषणा जल्द होगी। 
  • बिजली बिल में लेट लतीफी की शिकायतों पर प्रदेश के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने शुक्रवार को कहा कि किसी भी उपभोक्ता को तीन महीने से ज्यादा स्टोर रीडिंग होने पर बिल की वसूली एजेंसी से की जाएगी। वह उपभोक्ता सेवाओं की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि विद्युत विभाग उपभोक्ता के हितों के संरक्षण के लिए है। इसमें किसी प्रकार की ढीलाई बर्दाश्त नहीं होगी। उपभोक्ताओं को हर हाल में समय पर सही बिल मिले, यह सुनिश्चित किया जाना है।
  • नगराम के बचन खेला गांव में नाले में एक ट्रैक्टर पलट गया। इससे हरदोईया निवासी चालक संतोष की दबकर मौत हो गई। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया। शव को जब वापिस गांव भेजा गया तो ग्रामीणों ने नाराजगी व्यक्त की। वह नगर गंगागंज मार्ग पर पहुंच गए और रास्ता जाम कर प्रदर्शन शुरू कर दिया। ग्रामीणों के हंगामे की खबर मिलने पर कई थानों की पुलिस मौके पर पहुंच गई और उन्हें समझा बुझाकर शांत करवाया और जाम खुलवाया। ग्रामीण मुआवजे की मांग कर रहे थे।
  • छावनी बोर्ड की बैठक में कैंटोमेंट अस्पताल में ओटी शुरू करने का प्रस्ताव पास हुआ है। यहां गर्भवती महिलाओं को आप्रेशन करने की जरूरत पड़ने पर दूसरे अस्पताल जाना पड़ता है। अस्पताल में ओटी शुरू करने के प्रस्ताव पर 17 अक्टूबर को माडल का प्रस्तुतीकरण होगा। पार्षद प्रमोद शर्मा ने अस्पताल में वेंटिलेटर और आईसीयू वार्ड शुरू करने का भी प्रस्ताव रखा। यह प्रस्ताव रक्षा मंत्रालय को भेजा जाएगा। इसके साथ ही अस्पताल में विशेषज्ञ डाक्टरों की ओपीडी भी शुरू करने की मांग हुई है।

सम्बंधित वीडियो गैलरी