घर में प्रिंटर से छाप रहे थे 200 और 500 के नोट, 12 लोग हुए रैकेट में गिरफ्तार

Smart News Team, Last updated: Tue, 5th Jan 2021, 7:17 PM IST
मेरठ के पल्लवपुरम हाईवे की वन कॉलोनी के लोगों ने सोमवार को धरना-प्रदर्शन कर नारेबाजी की. बता दें, इस प्रदर्शन के दौरान सर्विस रोड का निर्माण, परिसर में मंदिर और कॉलोनी वालों को अलग से बिजली का फीडर देने की मांग की गई. सर्विस रोड के निर्माण को डीएम के नाम मेरठ वन वेलफेयर सोसाइटी की ओर से पत्र भी लिखा गया.
घर में प्रिंटर से छाप रहे थे 200 और 500 के नोट, 12 लोग हुए रैकेट में गिरफ्तार

:मेरठ पुलिस के हाथ हाल ही में बड़ी कामयाबी लगी है. दरअसल, यहां पर नकली नोट का बड़ा खेप पकड़ा गया है. मेरठ के गंगानगर इलाके में कुछ लोग नकली नोट बनाने के गिरोह का चला रहे थे. यह सभी घर पर ही नकली नोट छाप रहे थे. खुलासा तब हुआ जब राशन खरीदने के लिए महिला पास की एक दुकान पर नकली नोट लेकर पहुंची. शक होने पर दुकानदार ने पुलिस बुला ली. पुलिस ने महिला, उसकी बेटी, तीन अन्य युवती व सात युवकों को हिरासत में लिया है. बता दें, महिला के घर से प्रिंटर व एक लाख दस हजार के नकली नोट बरामद हुए हैं.

बता दें, गंगानगर के बी-ब्लाक निवासी एक दुकानदार ने पुलिस को एक महिला ग्राहक के पास 500 व 200 रुपये के नकली नोट होने की सूचना दी. वहां पहुंची पुलिस को दुकानदार ने बताया कि जो नोट महिला ने उसे दिया है, उसी सीरियल नंबर का नोट तीन दिन पहले उसकी बेटी भी दुकान पर लेकर पहुंची थ. पुलिस ने शक के आधार पर महिला को हिरासत में ले लिया और उसके घर पहुंची. वहां से कंप्यूटर, प्रिंटर, कागज और 500 व 200 रुपये के एक लाख दस हजार के नकली नोट बरामद किए.

छात्रों के प्रदर्शन में इंस्पेक्टर के बोल-कब तक भीख पर चलेगा देश, स्टूडेंट भड़के

वहीं, इस मामले में एसपी देहात ने भी महिला व उसकी बेटी से पूछताछ की. उसके आधार पर पुलिस उसकी साथी तीन युवतियों व सात युवकों को हिरासत में लेकर थाने ले आई. बताया जा रहा है कि रैकेट का सरगना एक महिला और एक पुरुष हैं. पुलिस ने पिलखुवा में भी दबिश दी लेकिन युवक हत्थे नहीं चढ़ा. पुलिस का कहना है कि जल्द ही पूरे मामले का पर्दाफाश किया जाएगा.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें