मेरठ: लापरवाही से 71 लोगों के RTPCR सैंपल खोया, संक्रमण फैलने का खतरा बढ़ा

Smart News Team, Last updated: 03/05/2021 01:12 PM IST
मेरठ के कैंट अस्पताल में 27 अप्रैल को दिए गए 71 लोगों के आरटीपीसीआर टेस्ट के सैंपल का रिजल्ट अभी तक नहीं आया है. इनमें से कई लोगों के एंटीजन रिपोर्ट पॉजिटिव और कई के नेगेटिव आए थे. जिससे शहर में संक्रमण फैलने की संभावना बढ़ गई है.
कोरोना संक्रमण का जांच सैंपल लेते हुए. (प्रतीकात्मक फोटो)

मेरठ : मेरठ के कैंट अस्पताल की बड़ी लापरवाही सामने आई है. दरअसल कैंट अस्पताल में 27 अप्रैल को 71 लोगों ने कोरोना संक्रमण का अपना आरटीपीसीपीआर सैंपल दिया था. इन सभी 71 लोगों के सैंपल का रिजल्ट अभी तक नहीं आया. यह सभी लोग असमंजस में बने हुए है कि वो कोरोना संक्रमित है या नहीं. ऐसी संभावना जताई जा रही है, कि सभी 71 सैंपल कही खो गए है या फिर वह नष्ट हो गया. इस बड़ी लापरवाही से सैंपल देने वालों का रिजल्ट न आने से संक्रमण फैलाने की संभावना बढ़ गई है.

कैंट अस्पताल के टेस्ट प्रभारी डॉ विकास सिंह के अनुसार उन्होंने सभी 71 लोगों के आरटी पीसीआर सैंपल मेडिकल कॉलेज में भिजवाए थे. उसके बाद उन्हें किसी भी तरह की कोई भी जानकारी नहीं मिली है. सभी 71 लोगों में सें कुछ लोगों के एंटीजन टेस्ट में रिपोर्ट पॉजिटिव भी आई थी. दरअसल 27 अप्रैल से लेकर 1 मई तक लोगों ने अपने टेस्ट रिजल्ट को वेबसाइट पर देखने पर रिसीविंग पेंडिंग दिखा रहा था. लेकिन 2 मई को वेबसाइट पर नॉट रिसिव्ड बाई लैब बताने लगा. जबकि 28 अप्रैल को अपना टेस्ट कराए लोगों का रिजल्ट बता दिया गया.

न्यूटीमा अस्पताल में 5 मरीज की मौत, परिजन ने ऑक्सीजन सप्लाई रुकने का लगाया आरोप

जिन लोगों का एंटीजन रिपोर्ट पॉजिटिव आया है उन लोगों ने खुद को होम आइसोलेशन में अपने आप को रखा होगा. जिससे संक्रमण नहीं फैलेगा. लेकिन जिन लोगों का रिजल्ट एंटीजन में निगेटिव आया है और उन्हें बिना लक्षण वाला कोरोना संक्रमण हुआ होगा तो उन लोगों से संक्रमण फैलने का खतरा बढ़ गया है. इस समय वैसे भी कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए ऑक्सीजन दवा बेड की बहुत मांग है. इस तरह की बड़ी लापरवाही बेड ऑक्सीजन दवा की और मांग बढ़ा सकती है.

विकास दुबे के खौफ की कहानी, 25 साल बाद बिकरू के लोगों ने चुना प्रधान, इनकी जीत

UPSESSB: टीजीटी-PGT शिक्षक भर्ती में आवेदन की आखिरी तारीख फिर बढ़ी, फुल डिटेल्स

LLRM मेडिकल कॉलेज में जूनियर डॉक्टर और सफाईकर्मियों में मारपीट, दो मरीज की मौत

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें