मेरठ: मेडिकल कॉलेज को प्रशासन की सौगात, खुल सकती है वायरोलोजी केंद्र

Smart News Team, Last updated: Wed, 3rd Feb 2021, 5:40 PM IST
  • मेडिकल कॉलेज को प्रदेश सरकार जल्द ही बड़ा तोहफा दे सकती है. खबरें हैं कि मेडिकल कॉलेज में वायरोलोजी केंद्र खोला जा सकता है.
मेरठ मेडिकल कॉलेज (फाइल तस्वीर)

मेरठ: मेडिकल कॉलेज को प्रदेश सरकार जल्द ही बड़ा तोहफा दे सकती है. दरअसल, कोरोना वायरस महामारी के दौरान साक्लास टीम और वायरोलोजी जांच लैब की अहमियत सरकार के सामने आई. जिसके बाद जब देश की वित्त मंत्री निर्मला सीतरमण ने बजट पेश किया, तो सबसे ज्यादा महत्व संक्रामक बीमारियों की रोकथाम के लिए नई हाइटैक जांच लैब की जरूरत को मिला.

वहीं, अब मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो मेरठ के मेडिकल कॉलेज में अब वायरोलोजी केंद्र भी खोला जा सकता है. बता दें, कॉलेज में माइक्रोबायोलोजी लैब जल्द ही शुरू हो जाएगी. वहीं, केंद्र सरकार ने बजट में चार इंस्टीयूट ऑफ वायरोलोजी केंद्र खोलने की बात कही है, ऐसे में इन केंद्र पर मेडिकल कॉलेज भी अपनी दावेदारी ठोक सकता है.

पुलिस चौकी के पास चोरों ने डाली डकैती, तीन लाख की शराब और नकदी पर किया हाथ साफ

इसको लेकर मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डा. ज्ञानेंद्र सिंह कहते हैं कि माइक्रोबायोलोजी लैब में वायरस की जेनेटिक स्टडी की क्षमता है. अत्याधुनिक लैब होने के साथ ही आसपास के दर्जनों जिलों को मिलाकर दस लाख से ज्यादा कोरोना सैंपलों की जाच की जा चुकी है. यह लैब एनआइवी पुणे के संपर्क में रहते हुए एच1एन1 की भी जांच करती रही है. यहा पर कार्यरत माइक्रोबायोलोजिस्ट डा.अमित गर्ग पीजीआई लखनऊ में वायरोलोजी पर रिसर्च कर चुके हैं. नौ बायोलैब बनाई जाएंगी, जिसकी एक ब्रांच मेरठ को मिल सकती है. इसमें माइक्रोआर्गनिज्म एवं कोशिकाओं पर शोध होगा. साथ ही देशभर में 17 नए पब्लिक हेल्थ यूनिट को चालू किया जा रहा है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें