मेरठ: कोरोना पॉजिटिव को ला रही एंबुलेंस के टायर फटे, बिना ऑक्सीजन मरीज परेशान

Smart News Team, Last updated: Sun, 18th Apr 2021, 2:33 PM IST
  • कोरोना मरीज को बुलंदशहर से लेकर आ रही एक एंबुलेंस के दोनों टायर हाइवे पर खरखौदा क्षेत्र में फट गए. साथ ही ऑक्सीजन की सप्लाई भी बंद पड़ गई. जिस कारण मरीज लगभग डेढ़ घंटे तक सांस की समस्या से जूझता रहा. दूसरी एंबुलेंस का इंतजाम होने के बाद मरीज को मेरठ लेकर आया गया.
मेरठ: कोरोना पॉजिटिव को ला रही एंबुलेंस के टायर फटे, बिना ऑक्सीजन मरीज परेशान

मेरठ. मेरठ-बुलंदशहर हाइवे पर खरखौदा क्षेत्र में एक एंबुलेंस के दोनों टायर फट गए. यह एंबुलेंस बुलंदशहर से कोरोना के मरीज को लेकर आ रही थी. तभी रास्ते में दोनों टायर के फटने से एंबुलेंस अनियंत्रित हो गई. साथ ही ऑक्सीजन की सप्लाई भी ठप हो गई. जिससे करीब डेढ़ घंटे तक मरीज सांस की दिक्कत से जूझता रहा. जिसके बाद किसी तरह दूसरी एंबुलेंस का इंतजाम किया गया. जिससे मरीज को मेरठ मेडिकल लाकर कोवि़ड वार्ड में भर्ती कराया गया.

बीते दिनों सिंकदारबाद के रहने वाले एक मरीज की कोरोना टेस्ट में रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी. जिसके बाद उसे खुर्जा के कोविड अस्पताल में 108 एंबुलेंस से लेकर आया गया. लेकिन मरीज को वहाँ एडमिट न करके मेरठ के लिए रेफर कर दिया गया. एंबुलेंस जब कोरोना मरीज को लेकर मेरठ के लिए जा रही थी. तभी मेरठ-बुलंदशहर हाइवे पर खरखौदा क्षेत्र में फफूंडा गांव के पास एंबुलेंस के दोनों टायर अचानक फट गए. जिससे एंबुलेंस नियंत्रण के बाहर हो गई.

वीकेंड कर्फ्यू में मेरठ पूर्ण लॉकडाउन की तरह बंद, सड़कों-गलियों में पसरा सन्नाटा

एंबुलेंस के अनियंत्रित होने से कोरोना पॉजिटिव मरीज के ऊपर ऑक्सीजन सिलेंडर गिर पड़ा. जिससे मरीज को काफी चोट आ गई. इसके साथ ही सिलेंडर का रेगुलेटर टूटने से ऑक्सीजन की सप्लाई भी बंद हो गई. जिससे कारण मरीज की हालत बिगड़ने लगी. इस दौरान एंबुलेंस के ड्राइवर ने इधर-उधर फोन करके मदद मांगने की कोशिश की. लेकिन कहीं से कोई मदद नहीं भेजी गई.

कोरोना की दवा और प्लाज्मा अब एक फोन से घर पहुंचेगा, जानें कैसे कर सकते हैं ऑर्डर

जब मरीज ने खुद अपने परिचित की सहायता से इस मामले को सीएमओ मेरठ तक पहुंचाया. तब करीब डेढ़ घंटे के बाद जाकर दूसरी एंबुलेंस को भेजा गया. जिससे मरीज को मेरठ लेकर आया गया. फिलहाल मरीज को मेरठ मेडिकल के कोविड वार्ड में भर्ती करा दिया गया है. जहां उसका इलाज चल रहा है.

योगी सरकार का बड़ा फैसला, कोरोना काल में सभी सरकारी अस्पतालों में बंद रहेंगे ओपीडी

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें