मेरठ: आय, जाति, निवास और छात्रवृत्ति के लिए अब आवेदन करना होगा महंगा

Smart News Team, Last updated: Tue, 10th Nov 2020, 6:43 PM IST
  • मेरठ: प्रशासन ने हाल ही में जनसेवा केंद्रों के जरिए बनवाए जाने वाले आय, जाति, निवास और छात्रवृत्ति के लिए आवेदन करने को महंगा कर दिया गया है.
प्रमाण पत्रों के अलावा अन्य योजनाओं के फॉर्म भी होगा महंगा

मेरठ: प्रशासन ने हाल ही में जनसेवा केंद्रों के जरिए बनवाए जाने वाले आय, जाति, निवास और छात्रवृत्ति के लिए आवेदन करने को महंगा कर दिया गया है. बता दें, इन प्रमाण पत्रों के अलावा अन्य योजनाओं के फॉर्म भी ऑनलाइन भरने के लिए अब 30 रुपये का शुल्क आवदेनकर्ताओं को अदा करना होगा. जन सेव केंद्रो में यह नियम 16 नवंबर से लागू हो जाएगा. ई-डिस्ट्रिक्ट परियोजना के तहत मौजूदा समय में प्रदेश के गांवों से लेकर शहर तक करीब 65 हजार जन सेवा केन्द्र कार्यरत हैं, इनके जरिए ही लोग सरकारी योजनाओं के लिए आवेदन करते हैं.

डेढ़ महीने से बेटी लापता, परिवार ने एसएसपी ऑफिस के सामने किया आत्मदाह का प्रयास

हालांकि, अब तक जन सेवा केंद्र के जरिए प्रमाणपत्र व अन्य योजनाओं में आवेदन करने पर 20 रुपए का शुल्क देना पड़ता था, लेकिन 16 तारीख से सीएससी से आवेदन करने पर 30 रुपए का शुल्क देना पड़ेगा. इससे 65 हजार सीएससी संचालकों की आय में भी अब इजाफा होगा. अभी तक प्रति आवेदन पर सीएससी संचालकों (वीएलई) को 20 रुपए में मात्र चार से पांच रुपए ही कमीशन मिलता था. अब यह बढ़कर 12 से 15 रुपए हो जाएगा. सीएससी संचालक वर्षों से इसकी मांग कर रहे थे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें