दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे पर होगी बेरिकेडिंग, प्राइवेट वाहनों को प्रवेश नहीं

Smart News Team, Last updated: 04/12/2020 06:37 PM IST
  • दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे को लेकर हाल ही में प्रशासन ने एक कड़ा फैसला लिया है. दरअसल, जल्द ही अब एक्सप्रेस-वे पर बेरिकेडिंग कर दी जाएगी. दुर्घटना रोकने के लिए प्रशासन ने यह सख्त कदम उठाया है.
फाइल फोटो

मेरठ. दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे को लेकर हाल ही में प्रशासन ने एक कड़ा फैसला लिया है. बता दें, मेरठ से डासना तक दिन-रात वाहन गुजर रहे हैं. इससे दुर्घटना का अंदेशा है. एनएचएआई ने कार्यदायी कंपनी को हर तरफ बेरिकेडिंग कराने का निर्देश दिया है. अब सिर्फ कार्यदाई कंपनी और एनएचएआइ के वाहन ही जा सकेंगे.

दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस वे पर मेरठ से कुशलिया तक 27 किलोमीटर के हिस्से पर डामर कार्य हो चुका है, इसलिए दिल्ली और मेरठ के वाहन उससे दिन-रात आ जा रहे हैं. लेकिन इसकी वजह से एक्सप्रेस वे का काम प्रभावित हो रहा है, क्योंकि अभी उस हिस्से पर अंतिम परत डालने का कार्य चल रहा है. सफेद पट्टी लगाई जा रही है. क्रैश बैरियर और खंभे लगाए जा रहे हैं यानी कि पूरे एक्सप्रेस वे पर दिन-रात गतिविधियां चलती रहती हैं. डंपर और मशीनों का आवागमन होता है इसलिए कभी भी दुर्घटना हो सकती है.

यूपी विधान परिषद चुनाव: मेरठ स्नातक सीट मतगणना का तीसरा राउंड, BJP प्रत्याशी आगे

इस मामले में एक्सप्रेस-वे के परियोजना निदेशक मुदित गर्ग ने बताया कि अब जिन जिन रास्तों से वाहनों के प्रवेश करने की संभावना रहती है, वहां बेरिकेडिंग कर दी जाएगी. कोई भी प्राइवेट वाहन नहीं जाने दिया जाएगा. इसके साथ ही स्थानीय पुलिस को भी सूचित किया जाएगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें