मेरठ: जेडीयू MP KC त्यागी बोले- जूता पॉलिश करने वालों से भी खराब हालत में किसान

Smart News Team, Last updated: Thu, 1st Jul 2021, 6:17 PM IST
  • पश्चिमी उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले में पहुंचे जेडीयू सांसद केसी त्यागी ने कहा कि वर्तमान में किसानों की हालत बूट पॉलिश करने वालों से भी ज्यादा खराब है.
Bihar JDU MP KC tyagi in UP meerut statement on Farmers protest Narendra modi govt

काफी लंबे समय से दिल्ली में किसानों का प्रदर्शन चल रहा है, जिसको लेकर जदयू के राष्ट्रीय महासचिव और पूर्व सासंद केसी त्यागी ने बड़ा बयान दिया है. उनका कहना है कि देश के किसानों का शोषण हो रहा है और सरकार को उनकी बात मान लेनी चाहिए. साथ ही वो कहते हैं कि आंदोलन में किसान और सरकार दोनों जिद छोड़ कर बात करनी चाहिए. दरअसल, गुरुवार को केसी त्यागी मेरठ पहुंचे. जहां उन्होंने प्रख्यात आलिम मौलाना शाहीन जमाली के निधन पर दु:ख जताया और साथ ही इस दौरान उन्होंने मदरसा इमदादुल इस्लाम सदर बाजार में पत्रकारों से भी बातचीत की. 

उन्होंने किसानों के बारे में बात करते हुए कहा कि देश में किसानों का शोषण हो रहा है. वो कहते हैं कि देश के किसानों की हालत जूता पॉलिस करने वालों से भी बदतर स्थिति में है. केसी त्यागी ने कृषि कानूनों को लेकर किसानों का समर्थन किया है और कहा कि किसानों को फसलों का लाभकारी मूल्य दिया जाना चाहिए. साथ ही उन्होंने कहा कि दोनों का अब अपनी जिद छोड़कर नए सिरे से बात करनी चाहिए. उन्होंने कृषि कानून के बारे में बात करते हुए कहा कि वो कोई धार्मिक ग्रन्थ नहीं जो बदला न जा सके. 

तीन दिवसीय दौर पर UP में जाएंगे रक्षामंत्री राजनाथ सिंह, जानें पूरा कार्यक्रम

इतना ही नहीं केसी त्यागी ने कहा कि अगर दोनों तरफ से बात होती हैं तो इसमें केंद्रीय कृषि मंत्री और राकेश टिकैत दोनों अपनी बात रखनी चाहिए. दोनों को देश के सभी किसानों के हित में सोचते हुए पीछे हटकर बात करनी चाहिए, तभी इसका कोई हल निकल सकता है. इसके अलावा उन्होंने धर्मांतरण पर भी बात करते हुए कहा कि धर्मांतरण को राजनैतिक लाभ के लिए इस्तेमाल नहीं करना चाहिए. हमारे कानून में बालिग और नाबालिग दोनों की स्वतंत्रता के बारे में संविधान में स्पष्ट व्याख्याकी गई है. 

इतना जरूर है कि जबरन और झूठ बोलकर धर्म परिवर्तन कराना एक सामाजिक बुराई है और इस पर कानून में कार्रवाई और सजा का प्रावधान भी बनाया गया है. साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि राष्ट्र में पिछले काफी समय से अंदरूनी टकराव बढ़ता देखा जा रहा है. राज्यपाल, मुख्यमंत्री, केंद्र और राज्य के बीच कहीं न कहीं कुछ न कुछ अनबन चल रही है, जो किसी भी राष्ट्र की बढ़ोतरी के लिए ठीक नहीं है. 

साथ ही उन्होंने आने वाले चुनावों के लेकर कहा कि साल 2022 में उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में जेडीयू के लड़ने का आह्वान किया है. केसी त्याही कहते हैं कि एनडीए में बात बनी तो ठीक, नहीं तो अकेले चुनाव लड़ेंगे. बिहार से सटी 200 सीटों पर चुनाव लड़ेंगे. इतना ही नहीं उन्होंने ओवैसी को वोट कटवा पार्टी तक बताया. बता दें कि मदरसे के संस्थापक और प्रख्यात आलिम मौलाना शाहीन जमाल चतुर्वेदी का दो जून को निधन हो गया था.

मेरठ में फूड प्वॉयज़निंग के चलते 13 बच्चे और दो महिलाएं बीमार, अस्पताल में भर्ती

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें