मेरठ-बागपत में जहरीली शराब से मौत मामले में कांग्रेस ने जुलूस निकाल जताया विरोध

Smart News Team, Last updated: Mon, 14th Sep 2020, 2:57 PM IST
  • मेरठ और बागपत जिलों में हुई जहरीली शराब से हुई मौतों के संबंध में कांग्रेस ने मेरठ में जुलूस निकालकर विरोध जताया. इस दौरान ईव्ज चौराहा में संयुक्त आबकारी ऑफिस पर प्रदर्शन किया. उन्हें वहां ज्ञापन देकर कहा कि जहरीली शराब मामले की जांच हो.
मेरठ-बागपत में जहरीली शराब से मौत मामले में कांग्रेस ने जुलूस निकाल जताया विरोध

मेरठ. मेरठ में सोमवार को कांग्रेस के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने बागपत जिले के गांवों में जहरीली शराब पीने की वजह से हुई मौतों के मामले को लेकर जुलूस निकाला. यह जुलूस कांग्रेस के जिलाध्यक्ष अवनीश काजला के नेतृत्व में पीएल शर्मा स्मारक से होकर ईव्ज चौराहा में संयुक्त आबकारी आयुक्त के ऑफिस तक गया और यहां पर प्रदर्शन किया. 

कांग्रेस ने संयुक्त आबकारी आयुक्त को ज्ञापन देकर कहा कि जहरीली शराब के मामले में जांच हो और जो भी आबकारी अफसर जहरीली और अवैध शराब वालों से मिले हुए उन पर भी कार्रवाई हो. इस शराब के कारण जिनकी भी मौत हुई उनकी आर्थिक मदद करी जाए. जो भी पुलिस वाले अवैध शराब बेचने वालों के साथ मिले हुए और जिसने भी पोस्टमार्टम की रिपोर्ट के साथ छेड़छाड़ करने की कोशिश की है उनके खिलाफ कार्रवाई के तौर पर उन्हें अभी सस्पेंड किया जाए.

दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे: मुआवजे की मांग को लेकर 28 गांवों के किसानों की पदयात्रा

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पंडित नवनीत नागर, सेवादल प्रदेश सचिव रोहित गुर्जर, अखिल कौशिक, हरिकिशन अंबेडकर, जुबैर नसीम, नसीम कुरैशी, राजकेसरी, सलीम खान, नईम राणा और एसके शाहरूख ने कहा कि इस मामले की उच्चस्तरीय जांच हो. 

मेरठ के बाजारों में सुरक्षा बढ़ाने के लिए लगेंगे CCTV कैमरे

बुधवार देर रात यानी कि 9 सितंबर को मेरठ के जानी इलाके के मीरपुर जखेड़ा गांव में जहरीली शराब पीने से दो लोगों की मौत हो गई थी. गुरुवार को संयुक्त आयुक्त आबकारी राजेश मणि त्रिपाठी के निर्देश के बाद जिला आबकारी अधिकारी आलोक कुमार के साथ विभाग की टीम गुरुवार शाम गांवों में छापेमारी भी करती है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें