जाली नोट छाप पिछले चार महीने से बाजार में खपा रहा था शख्स, पुलिस ने धर- दबौचा

Smart News Team, Last updated: 02/11/2020 03:24 PM IST
  • मेरठ शहर में लगातार नकली नोटों के खेल का भंडाफोड़ हो रहा है. हाल ही में पुलिस ने दो लाख रुपये के जाली नोट बरामद किए हैं. दरअसल, टीपीनगर थाने की पुलिस ने आरोपी सुनील कुमार को एक मुखबीर के सूचना पर धर-दबौचा.
मेरठ में नकली नोट छापने वाले गैंग का एक बार फिर खुलासा

मेरठ.मेरठ शहर में लगातार नकली नोटों के खेल का भंडाफोड़ हो रहा है.पुलिस ने बताया कि आरोपी सुनील कुमार के पास से 1,97,200 जाली नोट, प्रिंटर और अन्य सामग्री बरामद की गई है. फिलहाल यह गौतमबुद्धनगर में किराए के मकान में रह रहा था. इसके कब्जे से 50000 असली नोट भी बरामद हुए हैं. पुलिस का दावा है कि अभियुक्त ने अपने जुर्म कबूल कर लिया है. उसकी निशादेही पर गौतमबुद्ध नगर के चौहानपुर थाना क्षेत्र से जाली नोट छापने में इस्तेमाल प्रिंटर, ए4 साइज पेपर, कतरन, कलर सैलोटेप, वाइटनर, पेन्सिल रबर, शीशा, पैमाना आदि सामान जब्त किए गए.

UP पंचायत चुनाव से पहले प्यार करने वालों पर खुफिया एजेंसी रख रही नजर

वहीं, मौके से एक दूसरा आरोपी श्रीकान्त उर्फ काली चरण भागने में सफल रहा. आरोपी ने पूछताछ में बताया कि वह काली चरण के साथ मिलकर पिछले चार महीने से अपने फ्लैट पर जाली नोट छाप कर बाजार में चला रहा था. वहीं, पुलिस आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की बात कर रही है और उसकी साथी को पकड़ने के लिए पूरी मशक्कत कर रही है.

इसके साथ ही पुलिस आरोपी सुनील कुमार से यह पता लगाने की कोशिश में जुटी है कि उसने अब तक बाजार में कितने रुपये के जाली नोट खपा दिए हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें