मेरठ: तेज गेंदबाज सुदीप त्यागी ने लिया क्रिकेट के सभी प्रारूपों से सन्यास

Smart News Team, Last updated: Thu, 19th Nov 2020, 11:14 AM IST
  • पूर्व भारतीय गेंदबाज ने क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से सन्यास की घोषणा कर दी है. उन्होंने इसके साथ ही आईपीएल के लिए भी खेला है. जहां उन्हें बेहतरीन गेंदबाजी करते हुए देखा जा चुका है.
मेरठ के रहने वाले सुदीप त्यागी ने क्रिकेट के सभी प्रारूपों से लिया सन्यास.(फाइल फोटो)

मेरठ. शहर के रहने वाले पूर्व भारतीय गेंदबाज सुदीप त्यागी ने क्रिकेट से अपना रिटायरमेंट ले लिया है. वह क्रिकेट में भारतीय टीम और चेन्नई सुपर किंग्स का भी हिस्सा रह चुके हैं. जहां उन्हें अनकी तूफानी गेंद को फेंकते हुए भी देखा जा चुका है. सुदीप की क्रिकेट में आने की शुरुआत गाजियाबाद टीम में शामिल होकर हुई. इसके साथ ही वो मेरठ के लिए भी खेलते रहे हैं. बता दें कि सुदीप का जन्म 17 सितंबर 1987 को कस्बा परीक्षितगढ़ में हुआ था.

सुदीप ने वर्ष 2007 में अंतरारष्ट्रीय क्रिकेट में प्रवेश करने के लिए पहले मैच की शुरुआत रणजी से की थी. उनका यह मैच शमशाह पार्क में आयोजित हुआ था. इसके साथ ही उन्होंने शहर में हुए हर क्रिकेट मुकाबले में भाग लिया है. क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से विदाई देने पर सुदीप ने ट्वीट कर लिखा कि वो हर किसी को धन्यवाद देना चाहता हैं, जिसने भी उनका समर्थन किया. उन्होंने हर खिलाड़ी की तरह एक सपना देखा था कि वो देश का प्रतिनिधत्व करें. जो उनके लिए एक सपना था जिसे सुदीप ने हकीकत में बदला.

मेरठ: कार में बैठा था चार्टर्ड एकाउंटेंट, CA समेत कार उठा ले गई ट्रैफिक पुलिस

सुदीप की अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में शुरुआत वर्ष 2009 में हुई थी जब उन्होंने दिल्ली के फिरोज शाह कोटला मैदान में श्रीलंका के खिलाफ वनडे खेला था. इस मैच में सुदीप ने एक विकेट ही लिया था. वहीं, उनके करियर का आखिरी मैच 2010 का था. जहां उन्होंने अहमदाबाद में साउथ अफ्रीका के खिलाफ खेला था. सुदीप पांच अंतराराष्ट्रीय वनडे क्रिकेट में भाग ले चुके हैं. जिसमें उन्हें सिर्फ तीन विकेट चटकाने में ही सफलता प्राप्त हुई थी. साथ ही वह 23 अंतरराष्ट्रीय वनडे में 31 विकेट ले चुके हैं, वहीं प्रथम श्रेणी मैचों में उन्हें 109 विकेट लेने में ही कामयाबी मिली. इसी आधार पर उनका सेलेक्शन आईपीएल की टीम चेन्नई सुपर किंग्स में हआ था. जिसके लिए उन्होंने वर्ष 2009 और 2010 में खेला था.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें