किसानों से विवाद के चलते महरौली में 4 दिन बंद रहेगा दिल्ली मेरठ एक्सप्रेसवे काम

Smart News Team, Last updated: 24/08/2020 10:19 PM IST
  • दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे का काम किसानों के हंगामे के चलते चार दिन तक महरौली में बंद रहेगा. किसानों ने एनएचएआई पर गैर कानूनी तरीके से काम करने का आरोप लगाया है. समस्या के समाधान के लिए प्रशासन ने चार दिन का समय लिया है.
दिल्ली -मेरठ एक्सप्रेसवे निर्माण कार्य से जुड़े विवाद पर बैठक करते किसान और एनएचआई के अधिकारी 

गाजियाबाद/ मेरठ: दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे का काम महरौली के पास अगले चार दिनों तक बंद रहेगा. किसानों का आरोप है कि एनएचएआई उनकी जमीन का अधिग्रहण किए बिना निर्माण कर रहा है. प्रशासन ने किसानों को भरोसा दिया है कि विवाद का समाधान चार दिन में हो जाएगा और तब तक सड़क नहीं बनेगा. बीते दो दिनों से चल रहे विवाद के बाद अब मंगलवार से जमीन की नपाई का काम शुरू होगा.

दिल्ली- मेरठ एक्सप्रेसवे के महरौली के पास चल रहे निर्माण कार्य में चार किसानों ने दावा किया कि उनकी जमीन पर एनएचएआई गैर कानूनी तरीके से काम कर रही है. जिसके बाद किसानों ने विरोध प्रदर्शन करते हुए काम को बंद करा दिया. पुलिस ने प्रदर्शन कर रहे कुछ किसानों को गिरफ्तार कर लिया. किसानों के समर्थन में पहुंचे कांग्रेस और रालोद नेताओं ने भी गिरफ्तार किसानों की रिहाई की मांग की.

सूचना पर पहुंचे सिटी मजिस्ट्रेट शिव प्रताप शुक्ला ने गिरफ्तार किसानों को मौके पर जमानत देते हुए सोमवार को प्रशासनिक अधिकारियों से बैठक तय करना निश्चित किया और एक्सप्रेसवे का काम बंद करा दिया. 

सोमवार को एडीएम सिटी शैलेंद्र कुमार सिंह के कार्यालय में किसानों और प्रशासनिक अधिकारियों की बीच वार्ता में किसान कमर पाल ने कहा कि किसानों ने एनएचएआई और पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों से अधिग्रहण के कागजात मांगे लेकिन वह नहीं दिखा पाए. 

सभी किसानों का कहना था कि यदि अधिकारी विवाद वाली जमीन के अधिग्रहण कर मुआवजा देने के दस्तावेज दिखा दें तो किसान अपना दावा छोड़ देंगे. फिलहाल प्रशासनिक अधिकारियों ने मामले की जांच के लिए चार दिनों का समय मांगा साथ ही किसानों की शर्त मानते हुए अगले चार दिनों तक विवादित जमीन पर काम बंद रखने के आदेश दिए हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें