मेरठ समेत यूपी के इन 19 जिलों में हो सकता है जल संकट, जानिए कारण

Swati Gautam, Last updated: Sat, 16th Oct 2021, 8:35 PM IST
  • गंगा नहर रखरखाव कार्य के लिए बंद कर दिया जाएगा जिससे पानी की आपूर्ति प्रभावित हो सकती है. इससे दिल्ली, नोएडा और मुजफ्फरनगर, मेरठ, बुलंदशहर, गाजियाबाद, अलीगढ़, एटा, हाथरस और फिरोजाबाद सहित यूपी के 19 जिलों में जल संकट होने की आशंका है.
मेरठ समेत यूपी के इन 19 जिलों में हो सकता है जल संकट, जानिए कारण (file photo)

मेरठ. मेरठ समेत यूपी के 19 जिलों में जल संकट होने की संभावना है. बताया जा रहा है कि गंगा नहर को रखरखाव कार्य के लिए बंद कर दिया जाएगा जिससे पानी की आपूर्ति प्रभावित हो सकती है. जिससे राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली, नोएडा और मुजफ्फरनगर, मेरठ, बुलंदशहर, गाजियाबाद, अलीगढ़, एटा, हाथरस और फिरोजाबाद सहित यूपी के 19 जिलों में पानी की आपूर्ति प्रभावित होने की आशंका है. यूपी सिंचाई विभाग के अधीक्षण अभियंता उपेंद्र कुमार ने बताया कि गंगा नहर रखरखाव कार्य के लिए 5 नवंबर तक बंद रहेगी.

अंदाजा लगाया जा रहा है कि लोगों को पीने और सिंचाई के लिए पानी का संकट गहरा सकता है. इससे सबसे ज्यादा मुसीबत किसानों को झेलनी पड़ सकती है. आमतौर किसान खेतों की सिंचाई के लिए नहर के पानी पर ही निर्भर होते हैं लेकिन अगर राज्यों में अगर पानी की आपूर्ति प्रभावित होती है तो किसानों को अपने खेतों की सिंचाई के लिए आंशिक रूप से ट्यूबवेल और पंपिंग सेट पर निर्भर रहना पड़ सकता है. गौरतलब है कि गंगा नहर उत्तर प्रदेश के 19 जिलों की जीवन रेखा है, जो राज्य के लोगों को सिंचाई और पेयजल उपलब्ध कराती है.

मेरठ: यूपी पुलिस दारोगा ने पिस्तौल दिखाकर तीन सालों तक महिला का किया दुष्कर्म, निलंबित

अगर दिल्ली नोएडा समेत यूपी के 19 जिलों में पानी की आपूर्ति बाधित होती है जल संकट के कारण लोगों को मुसीबतों का सामना करना पड़ सकता है. वहीं आज यानी शनिवार को आगरा में अपर गंगा कैनाल से भी पानी की सप्लाई रोकी जा रही है लेकिन लोगों को कोई परेशानी नहीं होगी क्योंकि भरपाई के लिए दूसरी नहर से पानी दिए जाने का निर्णय लिया गया है. अगर ऐसा फैसला नहीं लिया जाता तो आने वाले 20 दिनों में आगरा में बड़ी समस्या पैदा हो सकती थी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें