मेरठ में डेंगू का कहर जारी, 24 घंटे में मिले आठ नए मरीज, संख्या बढ़कर 142 हुई

Prince Sonker, Last updated: Fri, 17th Sep 2021, 10:15 PM IST
  • मेरठ में डेंगू का प्रकोप जारी है. पिछले चौबीस घंटे में डेंगू के आठ नए मामले सामने आए हैं. जिसके बाद अब जिले में मरीजों की संख्या बढ़कर 142 तक पहुंच गई है. जिला प्रशासन ने बढ़ते मामलों को देखते हुए डेंगू प्रभावित क्षेत्रों में एंटी लार्वा का छिड़काव करा रही है.
मेरठ में डेंगू का प्रकोप लगातार बढ़ रहा है. (फाइल फोटो)

मेरठ. उत्तर प्रदेश के मेरठ में डेंगू के मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है. सीएमओ की और से जारी रिपोर्ट के अनुसार पिछले चौबीस घंटों में डेंगू के आठ नए मामले सामने आए हैं. इससे जिले में अब तक मिलने वाले कुल मरीजों की संख्या 142 तक पहुंच गई है. डेंगू की रोकथाम के लिए स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी घर-घर जाकर जांच कर रहे हैं और साथ ही एंटी लार्वा दवा का छिड़काव करवा रहे हैं. वहीं डेंगू के पैर पसारते ही निजी और सरकारी अस्पताल की लैबों में जांच का लोड बढ़ गया है. मेरठ जिला प्रशासन ने डेंगू की जांच करने वाली लैबों को एक अतिरिक्त सैंपल रखने का निर्देश दिया है, जिसकी जांच मेडिकल कालेज एवं जिला अस्पताल में की जाएगी.

एएनआई से बात करते हुए मेरठ के सीएमओ अखिलेश मोहन ने बताया कि मेरठ में 83 सक्रिय मामलों के साथ डेंगू के कुल 142 मामले हैं. अब तक 59 मरीज ठीक हो चुके हैं. हमने उन क्षेत्रों में रोकथाम और कीटनाशकों का छिड़काव शुरू कर दिया है जहां डेंगू के मामले सामने आए थे. हम घर-घर जाकर जांच भी कर रहे हैं. मच्छरों के लार्वा पहली बार पाए जाने पर हम घरों को नोटिस जारी करते हैं, दोबारा पाए जाने पर जुर्माना लगाते हैं, तीसरी बार लार्वा पाए जाने पर एफआईआर दर्ज कराते हैं. उन्होंने कहा कि शहर में डेंगू के प्रसार को रोकने के लिए पूरा स्वास्थ्य विभाग चौबीसों घंटे काम कर रहा है और इसके लिए नियमित रूप से फॉगिंग की जा रही है.

कानपुर रेलवे स्टेशन पर गोल्ड से भरे बैग के साथ चार लोग अरेस्ट, खुद को बताया डिलीवरीमैन

वहीं कानपुर में भी बुधवार को जिले भर में 108 सक्रिय मामले दर्ज किए गए. कानपुर के मुख्य चिकित्सा अधिकारी द्वारा जारी एक रिपोर्ट के अनुसार, जिले में बुधवार को डेंगू के पांच नए मरीज मिले हैं. कुल 108 मामलों में से 84 मामले जिले के ग्रामीण क्षेत्रों से सामने आए हैं. जिले में डेंगू से किसी की मौत की खबर नहीं है. इससे पहले, उत्तर प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह ने बताया कि राज्य सरकार राज्य में वायरल बुखार के प्रकोप को नियंत्रित करने के लिए हर संभव कदम उठा रही.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें