मेरठ: रैपिड रेल कॉरिडोर निर्माण के चलते इन 11 इलाकों में रहेगा पावर कट

Smart News Team, Last updated: Thu, 5th Nov 2020, 12:01 AM IST
मेरठ में रैपिड रेल कॉरिडोर के निर्माण के चलते गुरुवार को 132 केवी मोदीपुरम-गंगानगर ट्रांसमिशन की बिजली लाइन को ऊंचा किया जाना है. जिससे आसपास के 11 बिजली घरों और फीडरों में बिजली की आपूर्ति 4 घण्टे तक बंद रहेगी.
रैपिड रेल कॉरिडोर के चलते इन इलाको में रहेगी बिजली गुल

रैपिड रेल कॉरिडोर में आने वाली 132 केवी मोदीपुरम-गंगानगर ट्रांसमिशन की बिजली लाइन को गुरुवार के दिन ऊँचा करने के चलते विद्युत् आपूर्ति को बंद रखा जाएगा. जिसके चलते सुबह दस बजे से लेकर दोपहर 2 बजे तक विद्युत की आपूर्ति नहीं किया जाएगा. बिजली घरो और फीडरों की बिजली आपूर्ति को चार घण्टे तक बाधित रखा जाएगा.

मेरठ में इन दिनों रैपिड रेल कॉरिडोर का निर्माण कार्य चल रहा है जिसके चलते आये दिन कहीं न कहीं की बिजली आपूर्ति को बाधित करना पड़ता है. इसी तरह कल भी मोदीपुरम-गंगानगर ट्रांसमिशन बिजली की लाइन को बाधित रखा जाएगा. इस दौरान इस 132 केवी लाइन को ऊंचा किया जाएगा. इसकी जानकारी अधिशासी अभियंता ट्रांसमिशन राहुल नंदा ने दिया.

व्हाट्सएप पर पहले अश्लील वीडियो कॉल, फिर ब्लैकमेलिंग का खेल, तीन अरेस्ट

साइट इंजीनियर ने बताया कि रैपिड रेल कॉरिडोर में लगातार ट्रांसमिशन लाइन पर काम चल रहा है. गुरुवार को भी लाइन ऊंचा करने का कार्य कराया जाना है. जिसके चलते आस पास के इलाकों की बिजली आपूर्ति चार घंटे तक बाधित रहेगी. उन्होंने बताया कि सुबह 10 से लेकर दोपहर 2 बजे तक बिजली की आपूर्ति बाधित रहने वाली है. जिसके चलते ग्यारह बिजली घरो तक बिजली की आपूर्ति नहीं किया जाएगा.

मेरठ-करनाल हाईवे पर नानू गंगनहर पुल का निर्माण कार्य हुआ शुरू

इन बिजली घरो में नहीं होगी आपूर्ति

132 केवी मोदीपुरम-गंगानगर ट्रांसमिशन बिजली लाइन को ऊंचा करते वक्त मेरठ के 11 बिजली घरो तथा फीडरों में 4 घण्टे तक बिजली की आपूर्ति बाधित रहने वाली है. वो बिजली घर एमईएस, पुराना आरटीओ, पल्लवपुरम द्वितीय, एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी, मिलांज मॉल, सकौती, नंद वाटिका, धंजू जंगल, एटू जेड, एनएच-58 तथा सिवाया गांव शामिल है.

मेरठ- नोडल अधिकारी आबकारी आयुक्त कोविड सेंटरों का किया निरीक्षण

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें