बाइक बोट घोटाला: STF की मदद से EOW ने किया 50 हजार इनामी ललित कुमार को अरेस्ट

Smart News Team, Last updated: Wed, 21st Oct 2020, 8:36 PM IST
  • बाइक बोट घोटाले के मुख्य आरोपी ललित कुमार को ईओडब्ल्यू ने एसटीएफ की मदद से अरेस्ट किया. पुलिसे ललित कुमार पर 50 हजार का इनाम घोषित किया था.
बाइक बोट घोटाले में 50 हजार इनामी आरोपी ललित कुमार अरेस्ट.

मेरठ. मेरठ में बाइक बोट घोटाले के आरोपियों पर शिकंजा कसना शुरू हो गया है. आर्थिक अपराध शाखा ने बाइक बोट घोटाले में 50 हजार के ईनामी को गिरफ्तार कर लिया है. मंगलवार को ईओडब्ल्यू ने एसटीएफ की मदद से इनामी ललित कुमार मेवाना से गिरफ्तार किया. आपको बता दें मेरठ में दो साल पहले आरोपी ने करोड़ों रुपए का बाइक घोटाला किया था.

इस मामले को लेकर ईओडब्ल्यू के डीजी आरपी सिंह ने कहा कि ललित कुमार फरवरी में मेरठ, नोएडा, दिल्ली और बुलंदशहर जैसे शहारों से छिपकर रह रहा था. उन्होंने बताया कि उसे एसटीएफ की मदद से मेरठ के मेवाना से गिरफ्तार कर लिया गया है.

मेरठ: भतीजे ने ही कर दी चाची की हत्या, पुलिस ने केवल 24 घंटे में कर दिया खुलासा

आपको बता दें मेरठ में ललित कुमार ने 2018 में प्लानिंग करके जानबूझकर अपने नाम से 32 बाइक खरीदीं. जिस पर हर महीने उसे 3.12 लाख रुपए रिटर्न मिलने लगा. जब इसके बारे में आसपास के लोगों को पता चला तो उनको ये स्कीम फायदेमंद लगी. जिसके बाद ललित कुमार ने संजय भाटी के साथ प्लानिंग की और इसमें टारगेट 2 करोड़ रुपए का रखा गया.

मेरठ: महिला की अपहरण के बाद हत्या, पुलिस को है दुष्कर्म का अंदेशा

इसको लेकर ललित कुमार ने एक फार्च्यूनर भी खरीदी. जिससे लोगों में भ्रम फैल गया कि इस तरह से भी पैसा कमाया जा सकता है. ईओडब्ल्यू की विवेचना में पता चला कि ललित कुमार ने साजिश के तहत नोएडा में एक बड़ा प्रोग्राम रखा. जिसके बाद लोग बड़ी संख्या में गाड़ी लेने लगे तो कंपनी ने पैसा देना बंद कर दिया.

मेरठ: फोटो स्टेट की दुकान पर सट्टा लगाने का चल रहा था खेल, पुलिस ने मारा छापा

पुलिस ने इस मामले की जांच की तो इसमें करोडों का घोटाला सामने आया. पुलिस ने आरोपी को पकड़ने गई लेकिन वो फरार हो गया. जिसके बाद पुलिस ने आरोपी ललित कुमार पर 50 हजार का इनाम घोषित किया था.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें