मेरठ: जहरीली शराब से 2 मौत के बाद आबकारी विभाग की टीमों ने की ताबड़तोड़ छापेमारी

Smart News Team, Last updated: Fri, 11th Sep 2020, 10:48 AM IST
  • मेरठ में जानी थाना क्षेत्र के गांव मीरपुर जखेड़ा में जहरीली शराब पीने से तीन की मौत और बागपत जिले में पांच लोगों की जान चली गई है. इसी को लेकर गुरुवार शाम को आबकारी विभाग की टीम ने गांवों में ताबड़तोड़ छापेमारी की. 
मेरठ: जहरीली शराब से 2 मौत के बाद आबकारी विभाग की टीमों ने की ताबड़तोड़ छापेमारी

मेरठ. गुरुवार शाम को आबकारी विभाग ने मेरठ के जानी थाना क्षेत्र में पड़ने वाले गांव मीरपुर जखेड़ा में तीन लोगों की मौत और बागपत जिले के चमरावल गांव में पांच लोगों की मौत के बाद ताबड़तोड़ छापेमारी की है. गांव में लोगों का मानना है कि यह मौत जहरीली शराब की वजह से हुई है पर इस पर पुलिस, प्रशासन और आबकारी विभाग के अधिकारियों ने इसे मानने से मना करते हुए शुरुआती जानकारी के आधार पर कहा कि यह मौतें शराब से नहीं गई पर फिर भी अभी हम जांच पड़ताल ही कर रहे हैं.

संयुक्त आयुक्त आबकारी राजेश मणि त्रिपाठी के निर्देश के बाद जिला आबकारी अधिकारी आलोक कुमार के साथ विभाग की टीम गुरुवार शाम गांवों में ताबड़तोड़ छापेमारी करती है. इसका कोई फायदा नहीं होता क्योंकि शराब बेचने वालों के यहां से विभाग कोई भी बड़ी सफलता हाथ नहीं लगती. अधिकारियों का कहना है कि अभी जांच-पडताल नहीं रूकेगी और छापेमारी और इससे जुड़े अन्य काम जारी रहेगा. इस दौरान अगर कोई भी जहरीली या अवैध शराब के काम में शामिल हुआ पाया जाएगा तो उस पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई होगी.

मेरठ: जहरीली शराब पीने से दो की मौत, एक की हालत गंभीर

इन सब मामलों को ध्यान में रखते हुए मेरठ जिला आबकारी अधिकारी आलोक कुमार ने लोगों अपील की कि वह रजिस्टर्ड दुकानों से ही शराब खरीदें. गांव‌ और आसपास अगर किसी भी जगह से शराब न खरीदें अगर कोई गैरकानूनी तरीके से शराब बेच रहा है तो उसकी जानकारी पुलिस और आबकारी विभाग को दे. ऐसे होने पर जल्द से जल्द और मुस्तैदी से कार्रवाई की जाएगी.

मेरठ ज्वैलर व्यापारी हत्या: शनिवार को जागृति विहार -शास्त्रीनगर के बाजार बंद

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें