दिवाली के लिए पटाखे तैयार कर रहे थे बच्चे, हुआ धमाका, हालत गंभीर

Smart News Team, Last updated: Sat, 14th Nov 2020, 11:19 AM IST
मेरठ के खरदौनी गांव में बच्चे दिवाली में आतिशबाजी के लिए पटाखे तैयार कर रहे थे. इसी दौरान गंधक-पोटाश के मिश्रण में जोरदार विस्फोट हो गया. घायलों को गंभीर हालात में अस्पताल में भर्ती कराया गया. पुलिस ने घटना स्थल से कुछ सैंपल भी इकट्ठे किए.
धमाके बाद बिखरा सामान.

मेरठ: जिले के खरदौनी गांव में गंधक-पोटाश के मिश्रण को मिलाकर विस्फोटक तैयार करने के दौरान तेज धमाका होने का मामला सामने आया है. धमाके की चपेट में आने से तीन बच्चे बुरी तरह झुलस गए. जिसके बाद तीनों को गंभीर हालत में शहर के न्यूटीमा अस्पताल में भर्ती कराया गया है. जांच में पता चला कि बच्चे गंधक-पोटाश मिलाकर दिवाली के लिए आतिशबाजी तैयार कर रहे थे. इसी दौरान विस्फोट हो गया. बता दें कि पुलिस ने कुछ सैंपल भी सुरक्षित किए. बच्चों की हालत गंभीर बताई जा रही है. एक बच्चे का हाथ और पैर क्षतिग्रस्त हुआ है. 

जानकारी के मुताबिक खरदौनी के रहने वाले सतीश के बेटे शिवम, मोनू और अनंत बेटे अंकित गंधक और पोटाश मिलाकर पटाखे तैयार कर रहे थे. तीनों मिलकर पाउडर को बारीक पीसकर एक जगह पर मिला रहे थे और इसी दौरान पाउडर में अचानक तेज धमाका हो गया. इस धमाके में दोनों किशोर और बच्चा बुरी तरह से झुलस गया. 

सावधान! दिवाली पर सैनिटाइजर लगाकर ना जलाएं दीये और पटाखे, हो सकती है दुर्घटना

तेज धमाका हुआ तो आसपास के इलाके में हड़कंप मच गया. परिजन भी मौके पर दौड़े. तीनों बच्चे झुलसी हुई हालत में थे. घायलों को परिजनों ने न्यूटीमा अस्पताल में भर्ती कराया. यहां डॉक्टरों ने तीनों को भर्ती किया और बताया कि हालत गंभीर है. वहीं धमाके की सूचना पर पुलिस और फोरेंसिक टीम जांच के लिए मौके पर पहुंची. एक बच्चे का एक हाथ और एक आंख को अधिक नुकसान बताया जा रहा है.

Laxmi Puja Muhurat: दिवाली पर लक्ष्मी पूजन का क्या है शुभ मुहूर्त, जानें 


बता दें कि एनजीटी के आदेश पर दीपावली को लेकर बाजार में पटाखों की बिक्री पर रोक है. गांवों में भी पटाखे नहीं मिल रहे. इसके बावजूद गंधक और पोटाश किसानों के इस्तेमाल के चलते खुलेआम गांव की दुकानों पर मिल रहा है. खरदौनी में भी ये बच्चे पंसारी की दुकान से गंधक और पोटाश लेकर आए और इन्हें मिलाकर मिश्रण तैयार कर रहे थे. जिसके बाद हादसे का शिकार हो गए .

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें