मेरठ: किसानों का धरना जारी, महापंचायत का एलान-जब तक मुआवजा नहीं प्रदर्शन जारी

Smart News Team, Last updated: Sat, 17th Oct 2020, 6:53 PM IST
  • एक समान मुआवजे की मांग पर किसानों ने पांचवे दिन मातृशक्ति के साथ बड़ी संख्या में प्रदर्शन किया. आम आदमी पार्टी सांसद समर्थन में मिलने पहुंचे.
महापंचायत में मुआवजे की मांग के लिए एकत्रित हुए किसान

मेरठ.एक समान मुआवजे की मांग कर रहे किसानों का धरना पांचवें दिन भी जारी है. यह प्रदर्शन दिल्ली मेरठ एक्सप्रेस-वे पर स्थित मोदीनगर तहसील में किया जा रहा है. प्रशासन से लोग इतने नाराज हैं कि ताली और थाली बजाकर प्रदर्शन किए जा रहे हैं. शुक्रवार को तहसील में मातृशक्ति ने भी बड़ी संख्या में इकट्ठा होकर सभी के साथ प्रशासन के रवैये के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया. प्रदर्शन के बीच किसानों ने महापंचायत वाले दिन बड़े ऐलान की बात की जिसके तहत 20 अक्टूबर को समान मुआवजे की मांग पर आर या पार की लड़ाई करने की बात कही गई. इस धरने को समर्थन देने के लिए आप पार्टी के सांसद संजय सिंह धरने में किसानों के बीच पहुंचे.

इस आंदोलन का विरोध करीब 18 गांव के किसान कर रहे हैं. यह सभी किसान डासना से मेरठ के बीच के गांवों के रहने वाले हैं. तहसील में चल रहे एक समान मुआवजे की मांग के आंदोलन का धरना शुक्रवार को भी जारी रहा. बड़ी संख्या में पहुंची मातृशक्ति ने किसानों का धरने में साथ देते हुए थाली और ताली बजाते हुए पूरी तहसील के हर कोने तक आंदोलन की आवाज पहुंचाई. तहसील के भ्रमण के दौरान मातृशक्ति और किसान एसडीएम, सीओ और तहसीलदार के ऑफिस के सामने से भी गुजरे. उन्होंने वहां ताली और ताली बजाकर प्रशासन के रवैये से रूबरू करवाया.

मेरठ: चलती कार में 11वीं की छात्रा से रेप, आरोपी गिरफ्तार

इस आंदोलन के तहत अभी तक एक भी अधिकारी किसानों से मिलने नहीं पहुंचा है. इन सभी के बीच किसान आंदोलन का संयोजन करने वाले सतीश राठी और बबली गुर्जर ने पूछताछ पर कहां की अब 20 अक्टूबर को होने वाली महापंचायत की तैयारियों को तेज कर दिया गया है. आंदोलन में अभी तक किसानों के समर्थन में मात्र आम आदमी पार्टी के सदस्य पहुंचे हैं. आप पार्टी सांसद संजय सिंह ने इस मुद्दे पर प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री को पत्र लिखने का आश्वासन किसानों को दिया है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें