संयुक्त व्यापार संघ ने नहीं दिया किसान आंदोलन का साथ, बोले शहर में खुलेंगी दुकान

Smart News Team, Last updated: Tue, 8th Dec 2020, 2:11 PM IST
  • मेरठ: कृषि कानून ने लेकर किसानों ने आज यानी मंगलवार को भारत बंद का ऐलान किया था. हालांकि, इसको लेकर व्यापारी संगठन अलग-अलग रुख अपना रहे हैं. संयुक्त व्यापार संघ के दोनो गुटों ने खुद को तटस्थ रखते हुए बाजार खोले जाने की बात कही है.
संयुक्त व्यापार संघ के दोनो गुटों ने खुद को तटस्थ रखते हुए बाजार खोले जाने की बात कही

मेरठ: कृषि कानून ने लेकर किसानों ने आज यानी मंगलवार को भारत बंद का ऐलान किया था. हालांकि, इसको लेकर व्यापारी संगठन अलग-अलग रुख अपना रहे हैं. संयुक्त व्यापार संघ के दोनो गुटों ने खुद को तटस्थ रखते हुए बाजार खोले जाने की बात कही है. संयुक्त व्यापार संघ के संरक्षक अरुण वशिष्ठ ने कहा कि मंगलवार को बाजार बंद रखने का किसी प्रकार का कोई आह्वान नहीं है. उन्होंने कहा कि व्यापारी बाजार खोलेंगे. इसके साथ ही प्रशासन से सुरक्षा मांगते हुए अरुण वशिष्ठ ने कहा कि प्रशासन को सुनिश्चित करना चाहिए कि वह दुकानें वालों के साथ कोई अप्रिय घटना ना हो. उन्होंने कहा कि इस संबंध में पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों से भी वार्ता की है.

इसके अलावा संयुक्त व्यापार संघ के अध्यक्ष नवीन गुप्ता ने कहा कि वह फिलहाल तटस्थ हैं. ना तो हमसे किसी ने समर्थन मांगा है और ना ही हम किसी का विरोध करते हैं. नवीन गुप्ता ने कहा कि व्यापारियों से कहा गया है कि वह अपने-अपने क्षेत्र में स्थिति देखकर दुकानें खोलने या बंद करने का निर्णय लें. कहा अगर किसान दुकानें बंद कराने आएंगे तो मजबूरी में हमें दुकानें बंद रखनी पड़ेंगी. अगर कोई विरोध नहीं होता है तो दुकानें ना खोलें.

किसानों के समर्थन में भारत बंद को लेकर तैयारियां, भाकयू नेता करेंगे चक्का जाम

बता दें, पश्चिम उत्तरप्रदेश उद्योग व्यापार मंडल की आनलाइन माध्यम से बैठक हुई. संचालन करते हुए महामंत्री विपुल सिंघल ने कहा कि मेरठ में बंद को संगठन का समर्थन नहीं है. बाजारों में दुकानें खुलेंगी. मनोज गुप्ता, सुनील गुप्ता, पंकज गोयल, नवीन अग्रवाल, राकेश गुप्ता, विनीत विश्नोई आदि मौजूद रहे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें