मेरठ में जंगली जानवर ने युवक को किया घायल, क्षेत्र में दहशत का माहौल

Smart News Team, Last updated: 11/08/2020 09:25 AM IST
  • जंगली जानवर के हमले में घायल युवक को देख क्षेत्र में दहशत का माहौल युवक व ग्रामीणों ने तेंदुए जैसे जानवर के रात में घूमने की जताई आशंका वन विभाग ने जंगली बिल्ली के पंजे के निशान को बात कही
फ़ाइल फ़ोटो 

मेरठ। मेरठ जिले के खाता में ख़ालिदपुर मार्ग स्थित तालाब के किनारे बने मकान के बरामदे में सोए एक युवक पर शनिवार की देर रात एक तेंदुए जैसे जानवर ने युवक पर हमला कर गंभीर रूप से घायल कर दिया.

घायल युवक को आनन-फानन में अस्पताल पहुंचाया गया जहां उसका इलाज चल रहा है. ग्रामीणों ने इसकी सूचना स्थानीय पुलिस व वन विभाग को दी जिसके बाद वन विभाग की पहुंची टीम गांव में पड़े पंजों के निशान के आधार पर जांच कर रही है.

इस घटना के बाद सब ही आसपास के गांव में भी दहशत का माहौल है.अंधेरा होने से पहले ही गांव के सभी लोग अपने अपने घरों के अंदर चले जाते हैं. अंधेरा होने के बाद कोई भी घर के बाहर दिखाई नहीं देता. इस घटना से क्षेत्र में दहशत का माहौल है.

क्षेत्र के गांव खाता में शनिवार देर रात तेंदुए जैसे जानवर ने युवक पर हमला कर गंभीर रूप से घायल कर दिया. वन विभाग की टीम ने मिट्टी में पंजों के निशान की जांच कर जंगली बिल्ली या किसी अन्य जानवर के होने की बात कही है.

बता दें कि खाता में खालिदपुर मार्ग स्थित तालाब के समीप बाहरी छोर पर मकान बने हैं. शनिवार रात 18 वर्षीय शोएब पुत्र जहीरूद्दीन अपने मकान के बाहर बरामदे में सोया था.

देर रात दीवार के ऊपर से कूदकर आए जानवर ने उस पर हमला कर दिया. इससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया. शोएब के चिल्लाने पर घर वाले जाग गए. उन्होंने शोर मचाया तो जानवर पास में ही सलाउद्दीन के मकान में घुस गया.

ग्रामीण लाठी-डंडे लेकर सलाउद्दीन के मकान पर पहुंच गए. ग्रामीणों ने लाठी-डंडे से फटकार कर जानवर को खदेड़ दिया. वह वहां से जंगल की ओर निकल भागा. गांव के ही अमरपाल, जोगिंदर आदि ने बताया कि पांच दिन पहले खेत पर काम करते हुए तेंदुआ दिखाई दिया था. भय से अन्य किसान भी खेतों पर काम करने नहीं जा रहे हैं.

पुलिस के साथ डिप्टी रेंजर हस्तिनापुर विनोद कुमार अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंचे थे. उन्होंने अपनी टीम के साथ जानवर के पंजों के निशान के आधार पर जांच पड़ताल की है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें