मेरठ में लॉकडाउन के दौरान बंद पड़ी दुकानों में चूहों की वजह से लाखों का नुकसान

Smart News Team, Last updated: Wed, 2nd Jun 2021, 1:03 PM IST
  • लॉकडाउन में बंद पड़ी दुकानों को चूहों ने खूब नुकसान पहुंचाया. प्रशासन द्वारा दुकानों की साफ-सफाई के लिए 3 घंटे की छूट देने के बाद जब दुकानदारों ने दुकानें खोलीं तो कई दुकानों का काफी सामान बर्बाद हो गया.
चूहों ने दुकानों का सामान बर्बाद किया

मेरठ: कोरोना संक्रमण के कारण लगाए गए लॉकडाउन में बंद पड़ी दुकानों को चूहों ने खूब नुकसान पहुंचाया. प्रशासन द्वारा दुकानों की साफ-सफाई के लिए 3 घंटे की छूट देने के बाद जब दुकानदारों ने दुकानें खोलीं तो उनके होश उड़ गए. चूहों की वजह से कई दुकानों का काफी सामान बर्बाद हो गया.

मेरठ के सदर बाजार इलाके में साड़ी और कपड़ों की दुकानों में चूहों ने लाखों का सामान कुतर दिया. मिठाई की दुकानों में रखा कुछ सामान सीलन की भेंट चढ़ गया तो कुछ को चूहों ने बर्बाद कर दिया. आखिरकार उसे नाले में फेंकना पड़ा.

लुटेरों ने बैंक कैशियर की पत्नी और बेटी को गन प्वाइंट पर रख की लाखों की लूट

सुभाष बाजार की बंद दुकानों में चूहों ने अपना डेरा जमा लिया. यहां लाखों की साड़ियों और कपड़ों को चूहों ने कुतर दिया. इसके अलावा स्टेशनरी और कन्फेक्शनरी दुकानदारों को भी काफी नुकसान झेलना पड़ा. इलाके की कुछ दुकानों में चूहे मरने की वजह से सड़न और बदबू पैदा हो गई थी. जिसको दुकानदारोंको साफ करना पड़ा. कुछ दुकानों में सीलन और दीमक ने दुकानदारों की परेशानी बढ़ा दी.

पत्नी का हुआ सामूहिक बलात्कार तो पति ने बदनामी के डर से खाया जहर, केस दर्ज

ब्रह्मरी शारदा रोड पर स्टेशनरी कंफेक्शनरी की दुकान में चूहों ने खूब नुकसान किया. इसके अलावा ओडियन नाला पुल पर जूते-चप्पल की दुकान में भी चूहों ने अपना आतंक काटा. 20 से ज्यादा छोटी-बड़ी मिठाई की दुकानों, 50 से ज्यादा स्टेशनरी, कन्फेक्शनरी और कपड़े की दुकानों में लाखों रुपए के नुकसान का आंकलन किया गया है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें