मेरठ में खुले रहे बाजार, व्यापारियों की राष्ट्रव्यापी बंद का नहीं दिखा असर

Smart News Team, Last updated: Fri, 26th Feb 2021, 2:55 PM IST
मेरठ में आम दिनों की तरह ही शहर और देहात के बाजार खुले रहे. यहां पर व्यापारियों के राष्ट्रव्यापी बंद का असर नहीं दिखा. स्थानीय स्तर पर बंद की अपील पर किसी भी संगठन ने कोई कदम नहीं उठाया. संयुक्त व्यापार संघ और अन्य किसी भी संगठन ने मेरठ और उसके आसपास के जिलों में बंद के लिए कोई अपील नहीं की थी.
मेरठ में आम दिनों की तरह ही शहर और देहात के बाजार खुले रहे. यहां पर व्यापारियों के राष्ट्रव्यापी बंद का असर नहीं दिखा.

मेरठ. जीएसटी और ई-कॉमर्स के मुद्दे पर व्यापारियों के राष्ट्रव्यापी बंद का जिले में कोई असर नहीं देखा. आपको बता दें कि राष्ट्रीय स्तर पर व्यापारियों के संगठन कनफेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स ने 26 फरवरी को बंद का आह्वान किया था. लेकिन मेरठ में स्थानीय स्तर पर न तो कोई व्यापारी संगठन इससे जुड़ा है और न ही दो धड़ों में बंटे संयुक्त व्यापार संघ के किसी भी गुट ने मेरठ बंद की अपील की थी.

ज्ञात हो कि कनफेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स ने दावा किया था कि बंद में 40 हजार से अधिक व्यापारिक संगठनों के आठ करोड़ व्यापारी शामिल होंगे.भले ही राष्ट्रीय स्तर पर ऑल इंडिया ट्रांसपोर्ट वेलफेयर एसोसिएशन, हॉकर्स संयुक्त कार्रवाई समिति ने भी बंद का समर्थन किया था, लेकिन स्थानीय स्तर पर बंद की अपील पर किसी भी संगठन ने कोई कदम नहीं उठाया. संयुक्त व्यापार संघ और अन्य किसी भी संगठन ने मेरठ और उसके आसपास के जिलों में बंद के लिए कोई अपील नहीं की थी.हालांकि गुरुवार को जीएसटी संशोधन के खिलाफ सपा व्यापार सभा के पदाधिकारियों ने विरोध-प्रदर्शन किया था.

कृषि कानून वापस लेने तक किसानों के साथ संघर्ष करेंगी आम आदमी पार्टी: अध्यक्ष सभाजीत सिंह

मेरठ शहर और देहात के सभी बाजार पहले की तरह से खुले. ग्राहकों ने सामान की खरीददारी भी की. शहर के प्रमुख बाजार बेगमपुल, पीएल शर्मा रोड, आबूलेन, सदर बाजार, रजबन बाजार, सोतीगंज, भगत सिंह मार्केट घंटाघर, बुढ़ाना गेट, सेंट्रल मार्केट, जाग्रति विहार, हापुड़ रोड, शास्त्रीनगर, कंकरखेड़ा, टीपीनगर, दिल्ली रोड, माधवपुरम, गंगानगर, लालकुर्ती, मोदीपुरम समेत तमाम इलाकों में बाजार खुले.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें