लॉकडाउन में शादी-निकाह, अनलॉक होते ही तलाक, दहेज और मारपीट रिश्ते टूटने की वजह

Smart News Team, Last updated: Tue, 5th Jan 2021, 12:06 PM IST
  • लॉकडाउन में कई लोगों ने निकाह और शादी किए थे लेकिन अनलॉक होते ही वह रिश्ते अब तालाक के लिए कोर्ट के दरवाजे खटका रहे हैं. कुछ शादियां तो तालाक के भेंट भी चढ़ चुकी हैं. कई मामलों में दहेज उत्पीड़न तो कई में मारपीट रिश्ते टूटने की वजह बने हैं.
लॉकडाउन में शादी और अनलॉक में हो रहे तालाक,

मेरठ. कोरोना काल में लॉकडाउन के दौरान कई लोगों ने शादियां और निकाह किए हैं लेकिन वह रिश्ते सालभर भी नहीं टिक पा रहे हैं. कई रिश्ते तलाक की भेंट चढ़ चुके हैं तो कई मामलों में जमकर विवाद हुए हैं. पुलिस के पास कई तीन तालाक के मामले भी दर्ज हुए हैं. इसी के साथ कई मामले पुलिस थानों और परिवार परामर्श केंद्र में लंबित हैं.

लॉकडाउन के दौरान सात महीने पहले पूर्व हापुड़ के निवासी अजरा का निकाह मेरठ रे जाकिर कॉलोनी में रहने वाले वसीम के साथ हुआ था. अब आरोप है कि निकाह के कुछ समय बाद ही अजरा को दहेज के लिए परेशान किया जाने लगा. पति ने बीवी के साथ मारपीट शुरू कर दी. दो बार मामला पंचायत तक पहुंचा लेकिन दो महीने पहले आरोपी अपनी पत्नी को तालाक देकर फरार हो गया. जिसके बाद पंचायत में जमकर मारपीट और तमाशा हुआ. आरोपी के खिलाफ मुकदमा बाद में दर्ज कराया गया.  

मुरादनगर घटना पर CM योगी की बड़ी कार्रवाई, इंजीनियर और ठेकेदार पर लगेगी रासुका

अन्य मामले में किदवईनगर निवासी समरीन का निकाह भी मार्च के आखिरी में मेरठ के बुनकरनगर के रहने वाले रिजवान के साथ हुआ था. इस मामले में कुछ दिन बाद ही दोनों में विवाद शुरू हो गया. पत्नी समरीन गर्भवती भी उसी दौरान हुई. आरोप है कि पत्नी के गर्भवती होने के बावजूद भी पति ने समरीन का उत्पीड़न बंद नहीं किया और उसे तीन तालाक देकर घर से निकाल दिया. 

मिर्च नहीं लाने पर पत्नी को दिया तीन तलाक, फायरिंग

मेरठ के ही जिलानी गार्डन के निवासी रूबी का निकाह श्यामनगर के यूसुफ के साथ लॉकडाउन में ही हुआ था. रूबी ने पति पर आरोप लगाया है कि वह मारपीट करता है और कई तरह के दबाव बनाचा है. इस पर पुलिस में शिकायत दर्ज की गई थी. जिसके बाद भी यूसुफ ने अपने व्यवहार में बदलाव नहीं किया और पत्नी को तालाक दे दिया. 

एक महीने की बच्ची को लेकर जा रही थी महिला, लोगों ने चोर समझ कर दी पिटाई

मेरठ सिटी के एसपी डॉ. अखिलेश नारायण सिंह ने बताया है कि अनलॉक होने के बाद कई तीन तालाक के मामले उनके सामने आए हैं और यह यह सब निकाह लॉकडाउन के दौरान किए गए थे. पुलिस ने शुरूआत में दोनों पक्षों में सुलह कराने की कोशिश की गई लेकिन समाधान नहीं निकलने पर कानूनी कार्रवाई की गई. 

उत्तर प्रदेश के 600 स्थानों पर आज कोरोना वैक्सीन ड्राई रन, अस्पताल तैयार 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें