कोरोना पर मेरठ में बोले UP मंत्री- जहां जैसे हालात, वैसे ही इंतजाम कर रही सरकार

Smart News Team, Last updated: Fri, 9th Apr 2021, 4:34 PM IST
  • शुक्रवार को प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश खन्ना ने मेरठ का दौरा किया. जहां उन्होंने कोरोना वायरस से संबंधित व्यवस्थाओं को लेकर मेडिकल कॉलेज का निरीक्षण किया. इसके साथ ही मीडिया से बातचीत में उन्होंने नाइट कर्फ्यू को लेकर कहा कि कोरोना के जहां जैसे हालात है सरकार वैसे ही इंतजाम कर रही है.
कोरोना पर मेरठ में बोले UP मंत्री- जहां जैसे हालात, वैसे ही इंतजाम कर रही सरकार

मेरठ. शुक्रवार को यूपी के चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश खन्ना मेरठ पहुंचे. जहां उन्होंने मेडिकल कॉलेज में कोरोना से जुड़ी व्यवस्थाओं का निरीक्षण किया. साथ ही सीएमओ कार्यालय एवं कोविड एंड कंट्रोल सेंटर का भी निरीक्षण किया. उन्होंने कई मरीजों से ऑनलाइन बातचीत भी की. कोरोना की दूसरी लहर को लेकर मंत्री ने मेडिकल कॉलेज प्रबंधन और अन्य अधिकारियों से इलाज के दौरान विशेष सावधानी बरतने को कहा है. साथ ही परिसर को पहले की तुलना में अधिक सुरक्षित बनाने को कहा है. वहीं मंत्री के सामने कुछ मरीजों ने प्राचार्य ऑफिस पर हंगामा भी किया.

मंत्री सुरेश खन्ना ने मीडिया से कोरोना की इस दूसरी लहर को लेकर बातचीत की. उन्होंने कहा है कि किसी भी प्रकार की लापरवाही कोरोना की इस लहर में बहुत ही खतरनाक साबित हो सकती है. संक्रमण पर नियंत्रण करने के लिए सरकार व प्रशासन लगातार व्यवस्थाओं में जुटे हुए है. उन्होंने आम लोगों को सावधान रहने के साथ ही सरकार एवं प्रशासन के निर्देशों का पालन करने को कहा है. नाइट कर्फ्यू को लेकर उन्होंने कहा है कि कोरोना के जहां जैसे हालात है प्रशासन वैसी ही व्यवस्था कर रहा है. जिसमें लोगों के सहयोग की खास जरूरत है.

नाइट कर्फ्यू पर मेरठ के व्यापारियों ने जताई आपत्ति, मंडलायुक्त से मिलेंगे

शुक्रवार को मंत्री के मेरठ दौरे के समय उनके साथ सांसद राजेंद्र अग्रवाल, डीएम के बाला जी, अपर निदेशक स्वास्थ्य डॉ राजकुमार, मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ ज्ञानेंद्र कुमार, भाजपा के महानगर अध्यक्ष मुकेश सिंघल और अन्य लोग मौजूद रहे. जहां उन्होंने मेडिकल कॉलेज के निरीक्षण के दौरान प्राचार्य और अन्य अधिकारियों को कोरोना संक्रमण को लेकर सख्त चेतावनी दी है. उन्होंने मेडिकल कॉलेज परिसर में अनावश्यक भीड़भाड़ को रोकने को लेकर भी आदेश दिए है. साथ ही मीडिया के माध्यम से लोगों को सरकार और प्रशासन के कोरोना से संबंधित निर्दशों का पालन करने को भी कहा है.

पंचायत चुनाव की ड्यूटी कटवाने के लिए लोगों की भीड़, 300 कर्मियों ने दी एप्लीकेशन

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें