दिल्ली से पौड़ी तक जाम से राहत, मेरठ NH-58 बाईपास चौड़ीकरण की तैयारी

Smart News Team, Last updated: Fri, 2nd Jul 2021, 3:52 PM IST
  • मेरठ: बाईपास निर्माण के लिए 77.79 हेक्टेयर भूमि का अधिग्रहण किया जाएगा. इसके  लिए अधिसूचना जारी कर दी गई है.हाइवे से नएच-119 (मेरठ-पौड़ी मार्ग) व एनएच-58 को जोड़ने के लिए 13.40 किमी लंबे बाईपास का निर्माण किया जाएगा.
बाईपास निर्माण के लिए 77.79 हेक्टेयर भूमि का होगा अधिग्रहण

यातायात की सुविधा को बेहतर बनाने के लिए सड़क प्रोजेक्ट पर तेजी से काम किया जा रहा है. मेरठ-गढ़ हाइवे-709 ए को सफल बनाने की शुरुआत की जा रही है. इस हाइवे से नएच-119 (मेरठ-पौड़ी मार्ग) व एनएच-58 को जोड़ने के लिए 13.40 किमी लंबे बाईपास का निर्माण किया जाएगा. जिसके लिए जमीन अधिग्रहण अधिसूचना भी जारी कर दिया गया है. मेरठ-गढ़ हाईवे-709 ए का चौड़ीकरण कर इसे फोर लेन का बनाया जाएगा.चौड़ीकरण के लिए जमीन का जनपद में 75 फीसदी तक अधिग्रहण कर लिया गया है.

हाईवे को दूसरे हाईवे से जोड़ने की योजना पर भी काम शुरू कर दिया गया. पहले चरण में हाईवे-709 ए को मेरठ-बिजनौर-पौड़ी हाईवे-119 से जोड़ा जाएगा.इसके बाद बाइपास का विस्तार कर इसे मेरठ-दिल्ली-मुजफ्फरनगर हाईवे-58 से जोड़ा जाएगा. तीनों हाईवे के बीच बेहतर यातायात के लिए तैयार होने वाले इस बाइपास की कुल लंबाई 13.40 किमी होगी. वहीं बाइपास निर्माण के लिए जरूरी 77.79 हेक्टेयर भूमि के अधिग्रहण को लेकर अधिसूचना भी जारी कर दी गई. जिसके बाद भूमि अधिग्रहण प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी. साथ ही मुआवजा भी दे दिया जाएगा.

घर पर छापेमारी के बाद बोले मुनव्वर- भारत जैसा सम्मान, पाकिस्तान का PM बनकर भी नहीं मिलता

यहां होगा अधिग्रहण

बाईपास के लिए गांव बहचौला, सलारपुर जलालपुर, सिखेड़ा, बहराला, धन्जू, खनौदा, मैथना, इंद्र सिंह, मुख्तयारपुर नंगला, मामूरपुर, पनवाड़ी आदि गांवों की जमीन का अधिग्रहण किया जाएगा. इसके साथ ही मेरठ-बिजनौर-पौड़ी हाईवे-119 के लिए भी जरूरी जमीन का अधिग्रहण किया जाएगा. कुल 3.46 हेक्टेयर भूमि का अधिग्रहण किया जाएगा जिसमें मेरठ क्षेत्र के गांव शामिल हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें