मेरठ: आक्रोशित किसान ट्रैक्टर लेकर कलेक्ट्रेट में घुसे, पुलिस से झड़प

Smart News Team, Last updated: 21/09/2020 02:06 PM IST
  • मेरठ में आक्रोशित किसान ट्रैक्टर लेकर कलेक्ट्रेट में घुस गए. इसी के बाद पुलिस से झड़प भी हुई. किसान कृषि अध्यादेश के विरोध में प्रदर्शन कर रहे हैं. इस दौरान जमकर नारेबाजी हुई.
मेरठ: आक्रोशित किसान ट्रैक्टर लेकर कलक्ट्रेट में घुसे, पुलिस से झड़प

मेरठ. मेरठ में कृषि अध्यादेश के विरोध में किसानों ने प्रदर्शन किया. यहां तक की आक्रोशित किसान ट्रैक्टर लेकर कलेक्ट्रेट में घुस गए और उन्हें रोक रही पुलिस से किसानों की झड़प भी हुई. अध्यादेश के विरोध में किसान और उनके साथ भाकियू कार्यकर्ता सोमवार को सड़क पर उतर आए. उन्होंने सड़क पर विरोध प्रदर्शन किया जिसे पुलिस ने रोकने की कोशिश की. 

किसानों और पुलिस के बीच तीखी झड़प भी हुई. किसानों की पुलिस से भिड़ंत के बाद उन्होंने पुलिस को धकियाते हुए ट्रैक्टर कलक्ट्रेट परिसर में घुसा दिए. इसके बाद किसानों ने धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया. डीएम दफ्तर पर जोरदार नारेबाजी की. किसानों ने नारेबाजी करते हुए कहा कि कृषि अध्यादेश किसान विरोधी है. इससे मंडिया समाप्त हो जाएंगी.

मेरठ की मंडियों में 6 दिनों तक हड़ताल, फलों-सब्जियों के बढ़ सकते हैं दाम

किसानों का कहना है कि कृषि अध्यादेश आने से उन्हें नुकसान होगा क्योंकि फसल खरीदने की गारंटी इसमें शामिल नहीं की गई है. किसानों ने आरोप लगाया कि यह विदेशी कंपनियों को देश में घुसपैठ कराने की साजिश रची जा रही है. इससे परंपरागत खेती बर्बाद हो जाएगी और किसान पर बोझ बढ़ जाएगा.

कारोबारियों का ऐलान, सोमवार को प्रदेश भर में बंद के दौरान भी खुलेंगी मेरठ मंडी

प्रदर्शन करते हुए आक्रोशित किसानों ने कहा कि इस अध्यादेश को किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. प्रदर्शन के दौरान जिलाध्यक्ष मनोज त्यागी, चौधरी गजेंद्र सिंह, राजकुमार करनावल, अजयवीर सिंह, रामपाल, अनुज कुमार, मोहनवीर समेत काफी संख्या में किसान शामिल रहे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें