अधिकारियों और ग्रामीणों ने बातचीत से सुलझाई समस्या, मेरठ-बागपत हाईवे निर्माण तेज

Smart News Team, Last updated: 04/02/2021 07:06 PM IST
  • ग्रामीणों से निर्माण एजेंसी के अफसरों और प्रतिनिधियों से बातचीत के बाद मेरठ-बागपत हाईवे निर्माण को लेकर अड़चने खत्म हो गई है. अब हाईवे के निर्माण के कार्य में तेजी देखने को मिल सकती हैं. हाईवे के निर्माण को लेकर अलग-अलग स्थानों पर समस्याएं थी जिन्हें हल किया है. बागपत जिले में अग्रवाल मंडी टटीरी के लेकर अभी हल किया जाना बाकी है.
ग्रामीणों से निर्माण एजेंसी के अफसरों और प्रतिनिधियों से बातचीत के बाद मेरठ-बागपत हाईवे निर्माण तेज.

मेरठ. बुधवार को डौला गांव के लोगों से निर्माण एजेंसी के अफसरों और प्रतिनिधियों से बातचीत के बाद मेरठ-बागपत हाईवे निर्माण को लेकर अड़चने खत्म हो गई है. अब हाईवे के निर्माण के कार्य में तेजी देखने को मिल सकती हैं. हाईवे के निर्माण को लेकर अलग-अलग स्थानों पर समस्याएं थी जिन्हें हल किया है. बागपत जिले में अग्रवाल मंडी टटीरी के लेकर अभी हल किया जाना बाकी है. 

निर्माण कार्य पर ग्रामीणों से बातचीत के बाद प्रोजेक्ट मैनेजर रोहित खारी ने बताया कि हाईवे निर्माण को लेकर आने वाली समस्या पर डौला गांव के लोगों से बात की गई है. उनकी समस्याओं के निदान करने के बाद बाधा को दूर कर दिया है. अधिकारियों और प्रतिनिधियों ने गांव के मनीष विश्वकर्मा एडवोकेट, राजेश, प्रदीप, विमल कुमार, धर्मेंद्र, सुरेंद्र आदि से मामले पर बात की है. बातचीत के बाद ग्रामीणों को आश्वसत किया गया है कि हाईवे निर्माण के कार्य के दौरान मानक और गुणवत्ता पर ध्यान दिया जाएगा.

मेरठ में नगर निगम गृहकर के 35 बड़े बकायेदारों से वसूलेगा 129 करोड़ रुपये

बता दें कि ग्रामीणों से हुई बातचीत के बाद हाईवे निर्माण के कार्य को तेज कर दिया है. प्रोजेक्ट मैनेजर रोहित खारी, महाप्रबंधक सुनील शर्मा, सर्वेयर अजय, कंसलटेंसी से संजय गर्ग, मनमोहन चौबे, विवेक मिश्रा इस बातचीत के दौरान मौजूद थे. वहीं बागपत जिले अग्रवाल मंडी टटीरी में विरोध जारी है जिसके कारण हाईवे निर्माण का कार्य रूका है. यहां अभी भी किसान और ग्रामीण अभी भी विरोध कर रहे हैं. 

मेरठ: पुलिस पर हमला करने के आरोपियों की तलाश में दबिश, नहीं चढ़े हत्थे

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें