मेरठ: बिल्डर ने जिला पंचायत अध्यक्ष पर लगाया 2 करोड़ रंगदारी का आरोप, आत्महत्या की दी धमकी

Somya Sri, Last updated: Sun, 19th Sep 2021, 12:11 PM IST
  • बिल्डर और राजद नेता बबलू पूनिया ने फेसबुक पर पोस्ट डाल कर जिला पंचायत अध्यक्ष पर दो करोड़ की रंगदारी मांगने का आरोप लगाया है. साथ ही चेतावनी दी है कि अगर प्रशासन की ओर से कोई कार्यवाही नहीं की गई तो वे आत्महत्या कर लेंगे. इधर जिला पंचायत अध्यक्ष गौरव चौधरी डीएम को पत्र लिखकर घटना की जानकारी दी.
मेरठ जिला पंचायत अध्यक्ष गौरव चौधरी (फाइल फोटो)

मेरठ: मेरठ में कचहरी स्थित जिला पंचायत कार्यालय में बिल्डर और रालोद नेता बबूल पुनिया और जिला पंचायत अध्यक्ष गौरव चौधरी के बीच विवाद हो गया है. बिल्डर और राजद नेता बबलू पूनिया ने फेसबुक पर पोस्ट डाल कर जिला पंचायत अध्यक्ष पर दो करोड़ की रंगदारी मांगने का आरोप लगाया है. साथ ही चेतावनी दी है कि अगर प्रशासन की ओर से कोई कार्यवाही नहीं की गई तो वे आत्महत्या कर लेंगे. इधर जिला पंचायत अध्यक्ष ने डीएम को पत्र लिखकर घटना की जानकारी दी और एसएसपी से फोन पर बात की. जिला पंचायत अध्यक्ष का कहना है कि रालोद नेता बबूल पूनिया द्वारा सोशल साइट्स पर पोस्ट अपलोड कर उनकी छवि को धूमिल किया जा रहा है. उन्होंने कहा है कि रालोद नेता ने उन्हें कार्यालय में देख लेने की धमकी दी है.

जिला पंचायत अध्यक्ष गौरव चौधरी ने कहा कि, "शुक्रवार को बिल्डर और रालोद नेता बबलू पुनिया कार्यालय पहुंचे. बबलू पुनिया जानी के नेक गांव के रहने वाले है. कालोनी की समस्याओं के निस्तारण की बात आई तो बबलू पुनिया कार्यालय में ही देख लेने की धमकी देने लगे." उन्होंने कहा कि," बबलू पुनिया पहले भी जेल जा चुके हैं, जो दबंग किस्म के लोग हैं. कालोनी काटकर लोगों को सुविधा मुहैया नहीं करा रहे हैं. धमकी देने वाले बबलू पुनिया को ऑफिस से निकाल दिया था. जिसके बाद बबलू पुनिया ने छवि धूमिल करने के लिए फेसबुक पर पोस्ट अपलेाड की है, जिसके बारे में डीएम को पत्र लिख दिया है. एसएसपी और सीओ को भी फोन पर अवगत करा दिया है. "

मेरठ: मनचलों के डर से छात्रा ने स्कूल जाना छोड़ा, पुलिस से शिकायत पर भी कोई एक्शन नहीं

इधर बबलू पुनिया ने कहा कि, " गौरव चौधरी ने अपने कार्यालय में बुलाकर एरा कालोनी में दो बीघा जमीन या दो करोड़ की रंगदारी मांगी." बबलू पुनिया ने कहा कि," जिला पंचायत अध्यक्ष ने कहा कि चुनाव में मोटी रकम खर्च हो चुकी है. रकम नहीं देने पर गोली मारने की धमकी दी. सिविल लाइन पुलिस को शिकायत करने के बाद भी कार्रवाई नहीं हुई, जिस पर फेसबुक पर पोस्ट डालकर सुरक्षा की गुहार लगाई है."

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें