मेरठ: सिटी डाकघर बंद कैंट डाकघर में आधार कार्ड बनवाने उमड़ी भीड़, हंगामा

Smart News Team, Last updated: 21/08/2020 03:40 PM IST
  • मेरठ सिटी डाकघर में कोरोना संक्रमित मिलने के कारण बंद है. ऐसे में कैंट डाकघर में आधार कार्ड बनवाने वालों की भीड़ लग जा रही है. भीड़ इतनी ज्यादा बढ़ जा रही है कि भीड़ को नियंत्रित करन के लिए पुलिस बुलानी पड़ी.
कैंट डाकघर के सामने जुटी भीड़ को हटाने के लिए पुलिस को बुलाना पड़ गया

मेरठ. पिछले दिनों मेरठ के सिटी डाकघर में एक व्यक्ति कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया था. जिसकी वजह से यह डाकघर बंद है. ऐसे में, शहरवासियों का आधार कार्ड बनवाने के लिए कैंट डाकघर में जमावड़ा लग रहा है. सिटी डाकघर बंद होने से यहां भीड़ पहले के मुकाबले ज्यादा लग रही है, जिसकी वजह से सोशल डिस्टेंसिंग की जमकर धज्जियां उड़ रही हैं. जिले भर से भीड़ जमा होने के कारण लंबी लाइनें लग रही हैं. हालात इतने बिगड़ गए कि भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पुलिस को बुलाना पड़ गया है. लेकिन इसके बाद भी मुश्किलें कम नहीं हुई. कुछ देर बाद डाकघर के सर्वर में दिक्कत आ गई जिससे लोगों काम होने में और भी देरी होने लगा. काम में हो रही देरी को लेकर वहां मौजूद महिलाओं ने जमकर हंगामा किया.

मेरठ:नौचंदी चौराहे के पेट्रोल पंप पर फैली दहशत, 15 मिनट तक हुआ बवाल

सबसे पहले तो वहां मौजूद लोग खुद को सबसे आगे करने की होड़ में आपस में धक्का-मुक्की करने लगे. जिससे वहां मौजूद लोगों में नोकझोंक शुरू हो गई. बाद में हंगामा इतना बढ़ गया कि डाकघर के अधिकारियों को पुलिस को बुलाना पड़ गया. पुलिस आने के बाद जैसे-तैसे लाइन लगाकर कामकाज फिर शुरू किया गया. लेकिन थोड़ी देर बाद सर्वर में  खराबी के चलते फिर हंगामा शुरू हो गया.

सियासी दलों की तरह मेरठ विकास प्राधिकरण में एसोसिएशन का चुनाव आज

मेरठ में कैंट और सिटी सिर्फ दो डाकघर ऐसे हैं जिनमें आधार कार्ड बनाया जाता है. फिलहाल बैंको में आधार कार्ड बनाने का काम नहीं किया जा रहा है. बैंको में आधार कार्ड बनाए जाने को लेकर कर्मचारी तमाम बहानेबाजी कर रहे हैं. नतीजा, शहर के डाकघरों में आधार कार्ड बनाने के लिए लंबी लाइनें लग रही हैं. वहीं, पिछले 23 घंटों से कोरोना संक्रमित मिलने के कारण सिटी डाकघर भी बंद हैं. पिछले दिनों सिटी डाकघर के पांच कर्मचारी और एक अन्य लोग कोरोना संक्रमित निकल चुके हैं. 

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें