मेरठ के फरार अपराधी बदन सिंह की मदद करने वाले 5 पुलिसकर्मियों को किया सस्पेंड

Smart News Team, Last updated: 23/08/2020 09:34 AM IST
  • मेरठ से कुख्यात बदमाश बदन सिंह को भगा देने के मामले में पांच पुलिसकर्मियों को बर्खास्त कर दिया गया है. विभागी जांच के बाद उठाया गया यह कदम.
मेरठ में अपराधी को फरार होने में मदद करने पर 5 पुलिसकर्मी सस्पेंड

मेरठ. यूपी के मेरठ के फर्रुखाबाद में कुख्यात अपराधी के फरार हो जाने के मामले में पांच पुलिसकर्मियों को बर्खास्त कर दिया गया. बताया जा रहा है कि इसी मामले में इससे पहले एक दरोगा को भी बर्खास्त किया जा चुका है।

27 मार्च 2019 को फर्रुखाबाद पुलिस टीम ने फतेहगढ़ स्थित सेंट्रल जेल में मेरठ के कुख्यात बदमाश बदन सिंह उर्फ बद्दो को पेशी के लिए गाजियाबाद ले गई थी. बताया जा रहा है कि उसने यहां पुलिसकर्मियों से सांठगांठ कर ली थी. जानकारी के अनुसार अगले दिन वह पुलिस अभिरक्षा में मेरठ के एक होटल में जा पहुंचा. वहां से उसने पुलिस वालों को चकमा दिया और भाग गया.

मेरठ NCERT नकली किताब केस में आरोपी संजीव गुप्ता को बीजेपी ने किया निलंबित

बताया जा रहा है कि कुख्यात बदन सिंह के होटल से भागने के बाद पुलिस उसको ढूढ़ने लगी. पुलिस के काफ़ी खोजबीन के बाद भी वह नहीं मिला. जानकारी के अनुसार पुलिस को उसका अभी तक पता नहीं चल पाया है. इस मामले में उसे पेशी पर लें जाने वाले पुलिसकर्मियों और चालक के खिलाफ मेरठ में मुकदमा दर्ज हो गया.इसमें दरोगा देशराज त्यागी, हेड कांस्टेबल संतोष कुमार, सिपाही सुनील सिंह, राज कुमार, ओमवीर सिंह और चालक भूपेंद्र शामिल हैं. अभी तक ये लोग जमानत थे. थाने में मुकदमे के बाद इन लोगों के खिलाफ विभागीय कार्रवाई और जांच शुरू हो गई थी। 

UP बीजेपी में लखनऊ, कानपुर, वाराणसी का जलवा, 4-4 नेता बने प्रदेश पदाधिकारी

वहीं, इस मामले में पुलिस अधीक्षक डॉ. अनिल कुमार मिश्रा के मुताबिक, जांच में पाया गया है कि कुख्यात बदन सिंह को लें जाने में बेहद लापरवाही बरती गई थी। पुलिस ने बताया कि जो रूट तय था, पुलिस की टीम उस रूट से नहीं गई. माना जा रहा है कि पुलिस वालों की मिलीभगत से कुख्यात बदन सिंह भाग खड़ा हुआ. जानकारी के अनुसार इससे पहले जुलाई के अंतिम सफ्ताह में दरोगा देशराज त्यागी को बर्खास्त किया जा चुका था. 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें