शासन के आदेश के बाद मेरठ के जिला पंचायत प्रशासक बने डीएम के बालाजी

Smart News Team, Last updated: Fri, 15th Jan 2021, 3:57 PM IST
  • मेरठ के जिलाधिकारी के बालाजी को शासन ने जिला पंचायत प्रशासक बनाया है. डीएम ने जिला पंचायत प्रशासक का अतिरिक्त कार्यभार संभाला. 13 जनवरी को कार्यकाल समाप्त हो गया था.
मेरठ के डीएम के बालाजी.

मेरठ: उत्तर प्रदेश शासन के आदेश के बाद मेरठ के डीएम के बालाजी ने जिला पंचायत के प्रशासक का कार्यभार संभाल लिया. किसी डीएम को 21वीं बार मेरठ जिला पंचायत के प्रशासक के तौर पर चार्ज मिला है. 1923 से अब तक जिला पंचायत में 44 बार अध्यक्ष और प्रशासक रहे इसमें 23 बार जिला पंचायत अध्यक्ष और 21 बार प्रशासक ने इस पद की जिम्मेदारी संभाली. समय-समय पर जिला पंचायत के अध्यक्ष पद पर कई स्वतंत्रता सेनानी भी रहे हैं.

पांच साल पहले हुई चुनाव के आधार पर 13 जनवरी को जिला पंचायत के वर्तमान बोर्ड का कार्यकाल समाप्त हो गया. अपर मुख्य सचिव पंचायती राज मनोज कुमार सिन्हा की ओर से कार्यकाल समाप्ति को लेकर आदेश जारी किए गए थे. बता दें कि मेरठ मंडल में गौतम बुध नगर को छोड़कर सभी 5 जिले में जिला पंचायत के वर्तमान बोर्ड का कार्यकाल 13 जनवरी को समाप्त हो गया. मेरठ जिला पंचायत में अब तक प्रशासक के तौर पर कार्यभार संभालने वाले डीएम 21 अधिकारी हैं.

यूपी में मुख्यमंत्री पद का चेहरा कोई ब्राह्मण हो: कांग्रेस नेता प्रमोद कृष्णम

बता दें कि 1923 में मुख्यतार सिंह पहले जिला पंचायत अध्यक्ष बने थे. इसके बाद अभ तक 44 अध्यक्ष इस पद पर रह चूके. के बालाजी से पहले 2017 में तत्कालीन डीएम समीर वर्मा करीब पांच महीने तक प्रशासक के रुप में कार्यरत रहें.

मेरठ: 19 जनवरी को पुलिस के खिलाफ महापंचायत करेगा सर्वसमाज

वैक्सीनेशन पर बोले कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष, CM योगी पहले खुद लें वैक्सीन

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें