मेरठ: अंडों की कीमतों ने छुआ आसमान, चिकन को दे रहा है टक्कर

Smart News Team, Last updated: 11/10/2020 12:15 PM IST
  • लॉकडाउन में कोरोनावायरस के कारण अंडों की कीमतों में काफी उछाल देखने को मिल रहा है. एक किलो चिकन और एक कैरेट अंडे की दोनों ही 140-160 के बीच मिल रही हैं.
मेरठ में अंडे के दाम आसमान छू रहे हैं

मेरठ: कोरोनावायरस और लॉकडाउन के बाद सभी चीजों की दाम आसमान छू रहे हैं. चाहे वह सब्जियां हों या फल. वहीं, लॉकडाउन खुलने के बाद अब मुर्गी और अंडों की कीमत में भी काफी बढ़ोतरी हो गई है. दोनों की कीमतें एक समान पहुंच गई हैं. यह पहला मौका है, जब अक्टूबर से ही अंडे के दाम आसमान छू रहे हैं. एक किलो चिकन और एक कैरेट अंडे की दोनों ही 140-160 के बीच मिल रही हैं. बता दें, जहां अंडा पहले पांच से छह रुपये का मिलता था, वहीं अब उसकी कीमत आठ से नौ रुपये हो गई है. वहीं, कोरोना वायरस के साथ-साथ कीमत में बढ़ोतरी की वजह सर्दियों को बताया जा रहा है.

बता दें, विक्रताओं का मानना है कि बाजार में मुर्गी के अंडों की खपत सर्दियों के कारण बढ़ जाती है. सितंबर में अंडा छह रुपये में मिल रहा था, वहीं अब आठ और नौ रुपये का है. थोक में 120 रुपये में मिलने वाली क्रेट 160 रुपये में मिल रही है. दिसंबर-जनवरी तक अंडों की कीमत दोगुनी हो सकती है.

मुजफ्फरपुर से बाइक चुराकर, नंबर बदल नेपाल में थे बेचते, पुलिस ने दबोचा

वहीं, पॉल्ट्री फार्म संचालकों की मानें तो पिछले साल अंडे की कीमत नियंत्रण में थीं. लेकिन कोरोना शुरू होने के साथ ही यह अफवाहें तेज हो गई कि अंडे से कोरोना फैलता है. इसको लेकर सोशल मीडिया बड़ी तादाद में मैसेज शेयर किए जाने लगे. जिसके

बाद लोगों ने अंडे से मुंह फेर लिया. मार्च-अप्रैल में पॉल्ट्री फार्म कारोबारी तबाह हो गए। मुर्गियों को खिलाने के लिए दाना नहीं बचा. खर्च निकलना मुश्किल हो गया. पॉल्ट्री फार्म संचालकों ने मुर्गियों व उनके बच्चों को जिंदा दफनाना शुरू कर दिया था, जिसके बाद अब अंडों की कीमतों ने आसमान छू लिया है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें