मेरठ: औद्योगिक क्षेत्रों में जलभराव, सफाई आदि की समस्याओं से उद्यमी नाराज

Smart News Team, Last updated: 29/09/2020 06:46 PM IST
  • मेरठ विकास भवन में जिला उधोग बंधु की बैठक जिलाधिकारी ने ली. जिलाधिकारी के बालाजी ने निवेश मित्र एप पर 140 लंबित प्रकरणों पर नाराजगी जताई
जलभराव

मेरठ:  मेरठ में जिला उद्योग बंधु के साथ पहली बैठक मेरठ जिलाधिकारी के बालाजी ने ली. बैठक में उद्यमियों ने औद्योगिक क्षेत्रों की वर्षों से लंबित सड़क निर्माण, जलभराव, बिजली, सफाई, पानी आदि समस्याओं का समाधान न होने पर नाराजगी जताई तथा स्पष्ट कहा कि निवेश मित्र की भांति औद्योगिक क्षेत्रों की मूलभूत समस्याओं के समाधान की भी समय सीमा निर्धारित की जाए. वहीं बैठक में डीएम ने औद्योगिक क्षेत्रों की बदहाल सड़कों को चिन्हित करके उनका इस्टीमेट तैयार करने तथा मंगलवार से मोहकमपुर के नाले की सफाई शुरू कराने का निर्देश दिया है.

दरसअल मेरठ विकास भवन सभागार में आयोजित बैठक को संबोधित करते हुए जिलाधिकारी के बालाजी ने निवेश मित्र एप पर 140 लंबित प्रकरणों पर नाराजगी जताई. उन्होंने कहा कि सरकार का 72 घंटे में निस्तारण का निर्देश है. उसका पालन किया जाए. उन्होंने बताया कि कताई मिल को औद्योगिक क्षेत्र के रूप में विकसित करने तथा उसके मूल्याकंन के लिए यूपीसीडा के एसीओ की अध्यक्षता में शासन ने सात लोगों की समिति गठित की है.

बैठक में कुल 22 बिदुओं पर चर्चा की गई. औद्योगिक क्षेत्रों में टूटी सड़कों का आकलन तैयार करने तथा संबंधित विभागों की जिम्मेदारी निर्धारित करने का निर्देश उपायुक्त उद्योग को दिया गया है. मोहकमपुर औद्योगिक क्षेत्र के नाले की मंगलवार सुबह से सफाई शुरू कराने का निर्देश दिया.

इस दौरान मेरठ डीएम ने बताया कि एक जिला एक उत्पाद कलस्टर विकास योजना से एक्पोमार्ट व आधुनिक टेंस्टिग लैब बनाने के लिए मेरठ स्पोर्टस गुडस एंड इक्यूपमेंट कलस्टर को शासन से स्वीकृति मिल गई है. डीपीआर तैयार की जा रही है. इससे खासा लाभ मिलेगा. उन्होंने उद्यमियों से मास्क पहनने तथा कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए सावधानी बरतने की अपील की है. वहीं बैठक में निपुण जैन.राकेश रस्तोगी चैंबर ऑफ कामर्स. गिरीश कुमार. पंकज जैन लघु उद्योग भारती के अध्यक्ष आदि शामिल रहे.  

मेरठ में यूजीसी-नेट की परीक्षा आज, सेंटर पर हो रहा social Distancing का पालन

बैठक में ग्राम सिखेडा में स्थापित औद्योगिक इकाईयों को जल्द औद्योगिक फीडर से जोडऩे का वादा विद्युत अफसरों ने किया. उद्योगों के ऋण के लंबित प्रकरणों पर 15 दिन में निर्णय लेने का निर्देश उन्होंने बैंक अफसरों को दिया.बैठक में सीडीओ ईशा दुहन. सचिव एमडीए प्रवीणा अग्रवाल. अपर नगरायुक्त श्रद्धा शाण्डिलयान.उपायुक्त उद्योग वी के कौशल. आरएम यूपीएसआईडीसी. उपायुक्त श्रम दीप्तिमान भट्ट आदि शामिल रहे।

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें