मेरठ: पुलिस के उत्पीड़न से तंग आकर परिवार का ADG कार्यालय पर आत्मदाह का प्रयास

Smart News Team, Last updated: Tue, 29th Sep 2020, 11:32 PM IST
मंगलवार को मेरठ में एक परिवार ने पुलिस के उत्पीड़न से तंग आकर एडीजी कार्यालय पर आत्मदाह का प्रयास किया. इस दौरान पुलिस ने उनसे पेट्रोल की बोतल छीन ली. इसके बाद पूरा परिवार धरने पर बैठ गया.
एडीसी कार्यालय पर धरने पर बैठा परिवार और साथ में कुछ लोग

 मेरठ. टीपी नगर पुलिस के उत्पीड़न से तंग आकर एक परिवार मंगलवार को एडीजी कार्यालय पर सामूहिक आत्मदाह करने के लिए पहुंच गया. जैसे ही पुलिस को इस मामले की जानकारी हुई तो पुलिस ने उनसे पेट्रोल की बोतल छीन ली. परिवार कार्यालय के बाहर ही धरने पर बैठ गया.

टीपी नगर के गुजराती मोहल्ले की पूनम ने बताया कि उसका पति सब्जी के ठेले लगाता है. वे पहले वसंत कुंज कॉलोनी में कमलेश खुराना के मकान में किराए पर रहते थे. लेकिन लॉकडाउन के दौरान किराए को लेकर कमलेश से विवाद हुआ जिसके बाद उन्होंने कमरा खाली कर दिया. इसके बाद इसी मामले को लेकर कमलेश टीपी नगर थाने में उनके खिलाफ झूठी एफआईआर लिखवा दी.

मेरठः फॉर्म हाउस बनाने पर हस्तिनापुर SO पर गिरी गाज, SSP ने किया लाइन हाजिर

इसके बाद से थाने की पुलिस उन्हें परेशान कर रही है. दो दिन पहले टीपी नगर पुलिस ने उसके पति से थैला छीन लिया और सड़क पर उसकी पिटाई कर दी. इसके बाद पुलिस उसे थाने में ले गई और वहां भी उसे जमकर पीटा. पुलिस ने उसे जेल भेजने की धमकी दी.

पूनम का कहना है कि इसके बाद वह अपने बच्चों को लेकर थाने पहुंची और पुलिसकर्मियों से पति को छोड़ने की विनती की. जिसके बाद पुलिस ने उसके पति को छोड़ा लेकिन उनका ठेला अभी भी थाने में ही है.

मेरठ के शराब माफिया पर कार्रवाई, मकान सहित एक करोड़ दस लाख की प्रॉपर्टी जब्त

इसके बाद मंगलवार को पूनम ने अपने पति और दोनों बच्चों के साथ एडीजी कार्यालय पहुंच कर आत्मदाह का प्रयास किया. इस दौरान पुलिस ने उसकी बोतल छीन ली और कार्रवाई का आश्वासन देकर उन्हें वापस भेज दिया गया. आरोपों की जांच के लिए सीओ ब्रम्हपुरी को निर्देशित किया गया है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें