मेरठ:अयोध्या में मस्जिद निर्माण के लिए ट्रस्ट की पहली वर्चुअल बैठक सम्पन्न

Smart News Team, Last updated: 12/08/2020 12:25 PM IST
  • बैठक में मस्जिद, म्युजियम, अस्पताल निर्माण को लेकर हुई विस्तृत चर्चा. सर्वसम्मति से हुआ निर्णय, मस्जिद का नाम नहीं रखा जाएगा बाबरी. मस्जिद के नाम को लेकर ट्रस्ट की आगामी बैठक में होगा निर्णय.
फाइल फोटो

मेरठ। सुप्रीम कोर्ट द्वारा अयोध्या में मस्जिद निर्माण के लिए दी गई भूमि पर निर्माण को लेकर मंगलवार को ट्रस्ट की पहली बैठक आयोजित की गई. यह बैठक ऑनलाइन आयोजित की गई जिसमें ट्रस्ट के सभी पदाधिकारियों ने भाग लिया. बैठक में मस्जिद, म्युजियम व अस्पताल निर्माण को लेकर विस्तृत चर्चा की गयी.

इस दौरान ट्रस्ट के अभी सदस्यों ने सर्वसम्मति से निर्णय लिया कि अयोध्या में बनने वाली मस्जिद का नाम बाबरी नहीं रखा जाएगा. मस्जिद का नाम स्थानीय चीजों को ध्यान में रखकर उसी के आधार पर रखा जाएगा. मस्जिद के नामकरण पर आगामी बैठक में चर्चा होगी. इसके बाद ही निर्णय लिया जाएगा.

कोरोना वायरस संक्रमण के चलते ट्रस्ट पदाधिकारियों की पहली बैठक ऑनलाइन हुई. इसमें उत्तर प्रदेश सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड के चेयरमैन तथा मुख्य ट्रस्टी और अध्यक्ष जफर अहमद फारूखी, कोषाध्यक्ष फैज आफताब (नादिर अली बैंड मेरठ), उपाध्यक्ष अदनान फारूख शाह गोरखपुर, सेक्रेटरी अतहर हसन लखनऊ तथा ट्रस्ट सदस्य मोहम्मद जुनैद सिद्दीकी लखनऊ भी शामिल हुए.

यदि कोरोना वायरस संक्रमण की स्थिति ठीक रही तो लखनऊ में ट्रस्ट के दफ्तर में अगली बैठक होगी, अन्यथा ऑनलाइन ही बैठक की जाएगी.

सभी पदाधिकारियों ने मस्जिद के निर्माण के साथ ही वहां अस्पताल, नेचुलर सेंटर व म्युजियम आदि के निर्माण को लेकर चर्चा की. सभी ने सर्वसम्मति से निर्णय लिया कि इन सभी के निर्माण के लिए आर्किटेक्ट से सलाह-मशवरा लेकर नक्शा तैयार कराया जाएगा. नक्शे के मुताबिक ही इनका निर्माण कराया जाएगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें