मेरठ: गंगा नदी में डॉल्फिन की संख्या 35 से बढ़कर 41 हुई

Smart News Team, Last updated: 12/10/2020 01:33 PM IST
  • मेरठ में वन विभाग और डब्लयूडब्लयूएफ की टीम की वर्चुअल कार्यक्रम में बताया गया कि इस बार गंगा नदी में 41 डॉल्फिन पाई गई है. पिछले साल 2019 में डॉल्फिन की संख्या 35 थी.
गंगा नदी में डॉल्फिन की संख्या 35 से बढ़कर 41 हुई.

मेरठ. मेरी गंगा मेरी डॉल्फिन अभियान के तहत डॉल्फिन की गिनती का काम पूरा हुआ. गंगा नदी में डॉल्फिन की संख्या बढ़ गई है. गंगा में बिजनौर बैराज से लेकर बुलंदशहर नरौरा बैराज तक 41 डॉल्फिन मिली है. बताया जाता है कि 2019 में यह संख्या 35 थी. सोमवार को वर्चुअल कार्यक्रम में वन विभाग और डब्लयूडब्लयूएफ की टीम ने इस बात की चर्चा की. चर्चा में बताया गया कि सर्वे कराने के बाद पता चला है कि इस बार गंगा में डॉल्फिन की संख्या बढ़ गई है. चर्चा के दौरान रामसर गंगा साइट को अफसरों ने प्रसन्नता जताई.

ऑनलाइन वर्चुअल कार्यक्रम में बताया गया कि पांच अक्तबूर से नौ अक्तूबर के बीच डॉल्फिन की गिनती हुई थी. गंगा में बिजनौर बैराज से लेकर बुलंदशहर नरौरा बैराज रामसर साइट तक गिनती का काम हुआ था. जिसमें इस बार 41 डॉल्फिन पाई गई है. मीटिंग में बताया गया कि पिछले साल गंगा में 35 डॉल्फिन मिली थी. 

दहेज में बाइक की डिमांड करना दूल्हे को पड़ा महंगा , लड़की वालों ने बनाया बंधक

पीसीसीएफ वाइल्ड लाइफ सुनील पांडे ने बताया कि सर्वे काम में सात जिलों के वन विभाग की टीम डब्लयूडब्लयूएफ टीम के साथ काम की. टीम में कुल 24 सदस्य थे. टीम ने दो बोट में सवार होकर सर्वे किया है. 

मेरठ: डिब्बा चोरी करने के मामले में लाइन हाजिर सिपाही के पुराने रिकॉर्ड खंगाले

ऑनलाइन मीटिंग में पीसीसीएफ वाइल्ड लाइफ सुनील पांडे, वन संरक्षक अदिति शर्मा, एम सेमरन डीएफओ बिजनौर,गंगा प्रसाद, मेरठ मुख्य वन संरक्षक एनके जानू, सूरज डीएफओ मुजफ्फरनगर, सुरेश बाबू, रवि सिंह सेक्रेटरी डब्लयूडब्लूयएफ, संजीव कुमार यादव, डब्लयूडब्लूयएफ से संदीप बहेरा समेत मेरठ-सहारनपुर मंडल के डीएफओ भी शामिल थे. इसके अलावा वन विभाग के अफसरों और डब्लयूडब्लूयएफ के प्रतिनिधि भी शामिल हुए. इस दौरान पीसीसीएफ वाइल्ड लाइफ सुनील पांडे ने सर्वे टीम की सराहाना की. साथ ही वन विभाग और डब्लयूडब्लयूएफ प्रतिनिधियों की भी सराहाना की. 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें