मेरठ: परीक्षितगढ़ इलाके के जड़ौदा गांव में घुसा तेंदुआ, वन विभाग की टीम मौके पर

Smart News Team, Last updated: 02/02/2021 02:09 PM IST
  • मेरठ के परीक्षितगढ के जड़ौदा गांव मंगलवार की सुबह तेंदुआ देखा गया. तेंदुए की मौजूदगी से गांव में भय का माहौल बना हुआ है. वन विभाग की टीम तेंदुए की तलाश में जुट गई है. कुछ दिनों पहले किठोर क्षेत्र में तेंदुओ को देखा गया था.
जड़ौदा गांव पहुंची वन विभाग की टीम.

मेरठ: मेरठ के परीक्षितगढ़ इलाके के जड़ौदा गांव में तेंदुआ घुसने से खलबली मच गई. वन विभाग की टीम ने गांव वालों की मदद से तेंदुए को पकड़वाने का प्रयास किया, लेकिन कोई सफलता नहीं मिली. ओखला वन्य जीव विहार में कार्यक्रम छोड़कर डीएफओ भी मौके पर पहुंच रहे है. गांव में तेंदुआ घुसने की खबर से भय का माहौल बना हुआ है.

जंगलों से वन्य जीवों के बस्तियों तक पहुंचे का सिलसिला लगातार हो रहा है. मंगलवार को परीक्षितगढ़ इलाके के जड़ौदा गांव में एक तेंदुआ घुस आया. सुबह-सुबह खेतों के गए किसानों ने तेंदुए को देखा. जिसके बाद वन विभाग के अधिकारियों को इसकी सूचना दी गई. वन विभाग के अधिकारियों ने बताया कि जिले में वर्तमान समय में सात तेंदुए है. जो कभी-कभी घुमते-घुमते आस-पास के गांव और बस्तियों में पहुंचे जाते है. कुछ दिनों पहले किठोर के एक गांव में तेंदुआ घुस आया था.

UP में संदिग्ध और नवनियुक्त शिक्षकों के प्रमाण पत्र जांच का खर्चा उठाएगा विभाग

वन विभाग की टीम गांव में लगातार तेंदुए को खोजने का प्रयास कर रही है. वहीं वन विभाग के डीएफओ राजेश कुमार दिल्ली के ओखला वन्य जीव में चल रहे कार्यक्रम को बीच में छोड़कर गांव में लौट रहे है. वन विभाग गांंवों वालों से भी पूछताछ कर रही है.

मेरठ: बजट के बीच पेपर मिलों पर गहराया अपना वजूद बचाने का संकट, की ये मांग

गांव वालों ने बताया है कि जब से गांव में तेंदुआ की मौजूदगी का पता लगा है. तभी से गांव में भय का माहौल बना हुआ है. गांव वाले बच्चों और महिलाओं को घरों से बाहर निकालनें में डर रहे है. वहीं वन विभाग के अधिकारियों का कहना है कि जल्द ही तेंदुओं को पकड़ लिया जाएगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें